भारतीय सेना ने नकारा पाक का आरोप, कहा- LOC पर सैन्य ठिकानों और घुसपैठियों पर की गोलीबारी

भारतीय सेना ने पाकिस्तान के आरोपों को खारिज किया है कि भारत, सीमा पर क्लस्टर बमों का इस्तेमाल नहीं कर रहा. ये पाकिस्तान का झूठ है.

नई दिल्ली: पाकिस्तान ने रोना रोते हुए भारत पर आरोप लगाया कि नियंत्रण रेखा (एलओसी) पर भारतीय सेना कथित तौर पर क्लस्टर बम का इस्तेमाल कर रही है. भारतीय सेना ने पाकिस्तान के उन आरोपों को खारिज किया है कि भारत, सीमा पर क्लस्टर बमों का इस्तेमाल कर रहा है. सेना ने कहा कि भारत की ओर से क्लस्टर बम दागे जाने के आरोप और कुछ नहीं बल्कि पाकिस्तान का एक और झूठ, छल और कपट है.

‘हरकतों के खिलाफ कार्रवाई करने का अधिकार’

भारतीय सेना ने शनिवार को कहा कि पाकिस्तानी सेना समय-समय पर आतंकवादियों की घुसपैठ कराने की कोशिश करती है और उन्हें कई तरह के हथियार देकर उनकी मदद करती है. सेना ने कहा, भारत ने कई बार मिलिटरी ऑपरेशन की वार्ता में स्पष्ट कर दिया है कि उसे ऐसी हरकतों के खिलाफ कार्रवाई करने का अधिकार है.

‘पाकिस्तानी फायरिंग का जवाब दे रहे’

भारतीय सेना ने कहा ‘हम सिर्फ पाकिस्तानी फायरिंग का जवाब दे रहे हैं. हम सिर्फ सैन्य ठिकानों और पाकिस्तानी सेना की मदद से घुसपैठ की कोशिश कर रहे आतंकवादियों को निशाना बना रहे हैं. भारत द्वारा क्लस्टर बमों की फायरिंग के आरोप पाकिस्तान के धोखे, छल और झूठ का एक और उदाहरण है.’

पाकिस्तानी सेना के प्रवक्ता ने किया ट्वीट

भारतीय सेना का यह बयान पाकिस्तानी सेना के प्रवक्ता DG ISPR (इंटर सर्विसेज पब्लिक रिलेशंस) के एक ट्वीट के बाद आया है. डीजी आईएसपीआर ने एक ट्वीट में लिखा है, ‘भारतीय सेना की ओर से क्लस्टर बम का इस्तेमाल अंतरराष्ट्रीय संधि का उल्लंघन है और इसकी आलोचना होनी चाहिए.’

पाकिस्तान की ओर से संघर्षविराम उल्लंघन

गौरतलब है कि पाकिस्तान की ओर से नियंत्रण रेखा (एलओसी) पर संघर्षविराम उल्लंघन के बाद भारत की मुंहतोड़ जवाबी कार्रवाई से पाकिस्तान में हड़कंप मच गया है. संवेदनशील एलओसी के पास पाकिस्तान के कब्जे वाले कश्मीर में एक बांध के निर्माण में लगे पचास चीनी नागरिकों को वहां से हटा दिया गया. पाकिस्तानी मीडिया में प्रकाशित रिपोर्ट के मुताबिक, भारतीय सेना की लगातार गोलाबारी के मद्देनजर एलओसी के पास काम कर रहे पचास चीनी नागरिकों को वहां से हटा दिया गया.

क्या होते हैं क्लस्टर बम?

क्लस्टर बम बेहद खतरनाक और विनाशक माने जाते हैं. दरअसल यह बमों का एक गुच्छा होता है. इसे लड़ाकू विमानों से गिराया जाता है. एक ही क्लस्टर बम में कई बम गुच्छे के रूप में होते हैं. दागे जाने के बाद क्लस्टर बम अपने भीतर के बमों को गिराने से पहले हवा में मीलों तक उड़ सकते हैं. यह जहां गिरते हैं वहां 25 से 30 मीटर के दायरे में भारी तबाही मचाते हैं.

ये भी पढ़ें- जम्मू-कश्मीर के हालात पर राज्यपाल ने तोड़ी चुप्पी, बताया क्यों किया जा रहा है ये सब?

ये भी पढ़ें- कश्मीर छोड़ने की सलाह के बाद 5 गुना महंगे हुए फ्लाइट्स के टिकट

Related Posts