अरब सागर में फंसे थे 264 मछुआरे, देखें ऑपरेशन चलाकर इंडियन कोस्ट गार्ड ने कैसे बचाई जान

तमिलनाडु मत्स्य प्राधिकरण कोलाचल की तरफ से तट रक्षक बल को एक संदेश मिला, जिसमें बताया गया कि गोवा से पश्चिम की ओर 250 समुद्री मील की दूरी पर 50 नाव फंसी हुई हैं.

अरब सागर में फंसे 250 से ज्यादा मछुआरों को भारतीय तटरक्षकों ने बचा लिया है. इस रेस्कयू ऑपरेशन में इंडियन कोस्ट गार्ड ने व्यापारी जहाजों की भी मदद ली.

दरअसल, तमिलनाडु मत्स्य प्राधिकरण कोलाचल की तरफ से तटरक्षक बल को एक संदेश मिला, जिसमें बताया गया कि गोवा से पश्चिम की ओर 250 समुद्री मील की दूरी पर 50 नाव फंसी हुई हैं.

जिसके बाद इंडियन कोस्ट गार्ड ने अंतरराष्ट्रीय सुरक्षा नेट को एक्टीवेट कर 264 मछुआरों की जान बचाई. अधिकारियों के मुताबिक भारतीय तटरक्षक बल को ये संदेश 3 दिसंबर को मिला था.

इस रेस्कुयू ऑपरेशन में व्यापारी जहाजों की भी मदद ली गई. शुरुआत में आईसीजी जहाजों के आने तक उस इलाके में मौजूद सात व्यापारी जहाजों से कोस्ट गार्ड मेरीटाइम रेस्कुयू सेंटर ने मछुआरों की नाव तक मदद पहुंचाने की अपील की.

जिसके बाद व्यापारी जहाज नवधेनु पूर्णा ने 07 आईएफबी से 86 मछुआरों को बचाया. इसके साथ ही मवी तोवडा नामक एक व्यापारी जहाज ऐसा भी था जिसपर जापान का ध्वज लहरा रहा था, उसने करीब 34 मछुआरों को बचाया.

अखिर में इंडियन कोस्ट गार्ड, मैरीटाइम रेस्क्यू कोऑर्डिनेशन सेंटर के अनुरोध पर, पांच और व्यापारी जहाज. बचाव अभियान में शामिल हुए और 264 मछुआरों को बचाया गया.

ये भी पढ़ें :पूर्व PM देवगौड़ा के पोते सूरज रेवन्ना पर FIR दर्ज, हत्या की कोशिश समेत लगे ये आरोप