इमरान खान ने दिया मदद का ऑफर तो भारत ने कहा- PAK की GDP जितना तो हमारा कोरोना पैकेज है

इमरान खान (Imran Khan) ने एक ट्वीट करते हुए लिखा, ‘भारत में 34% घर बिना मदद के एक सप्ताह से ज्यादा नहीं चल सकते. मैं भारत की मदद करने को तैयार हूं.’

  • TV9.com
  • Publish Date - 6:46 pm, Thu, 11 June 20
imran khan, pakistan, Lashkar-e-Taiba, Lashkar-e-Taiba
File Photo- Pakistan PM Imran Khan

एक रिसर्च के मुताबिक कोरोना वायरस (Coronavirus) से प्रभावित होने वाले सबसे जोखिम वाले देशों में पाकिस्तान (Pakistan) तीसरे स्थान पर है. पाक प्रधानमंत्री इमरान खान (Imran Khan) इस दौरान लापरवाही और भ्रष्टाचार के आरोपों तले घिरे हुए हैं. इसके बावजूद घर के हाल को अनदेखा कर पाक पीएम को पड़ोसी देश की चिंता ज्यादा सता रही है. इमरान खान ने भारत को मदद का ऑफर दिया है. एक रिपोर्ट के हवाले से उनका दावा है कि भारत में 34 फीसदी परिवार बिना मदद के एक हफ्ते से ज्यादा नहीं चल पाएंगे. वहीं, इमरान खान की इस टिप्पणी पर विदेश मंत्रालय ने मुंहतोड़ जवाब दिया है.

देखिये फिक्र आपकी सोमवार से शुक्रवार टीवी 9 भारतवर्ष पर हर रात 9 बजे

इमारन ने भारत की मदद के लिए किया ट्वीट 

इमरान ने एक खबर को अपने ट्वीट के साथ शेयर करते हुए लिखा, ‘भारत में 34% घर बिना मदद के एक सप्ताह से ज्यादा नहीं चल सकते. मैं भारत की मदद करने को तैयार हूं. हमारे कैश ट्रांसफर प्रोग्राम की अंतरराष्ट्रीय स्तर पर तारीफ हुई है.’ पाकिस्‍तान के पीएम का कहना है कि उनकी सरकार ने 9 हफ्ते के अंदर सफलतापूर्वक एक करोड़ परिवारों को 120 अरब रुपये ट्रांसफर किए हैं. ताकि लोग कोरोना वायरस के कहर का सामना कर सकें.’

भारतीय विदेश मंत्रालय ने दिया जवाब

इमरान खान की टिप्पणी पर भारतीय विदेश मंत्रालय ने प्रतिक्रिया देते हुए कहा, भारत ने कोरोना के समय जितने बड़े स्पेशल पैकेज की घोषणा की है वो पाकिस्तान की जीडीपी के बराबर है. विदेश मंत्रालय ने कहा कि पाकिस्तान के पीएम को बेहतर सलाह दी जानी चाहिए. पाकिस्तान को देश से बाहर टेरर फंडिंग के लिए कैश ट्रांसफर को लेकर जाना जाता है. इतना ही नहीं विदेश मंत्रालय ने इस्लामाबाद को लोन संकट की याद भी दिलाई.

रिपोर्ट में क्या कहा गया ?

इमरान खान ने जो रिपोर्ट शेयर की उसमें बताया गया कि भारत में कोरोना लॉकडाउन का गंभीर असर हुआ है. ये दावा यूनिवर्सिटी ऑफ शिकागो और मुंबई की संस्‍था सेंटर फॉर मॉनिटरिंग द इंडियन इकोनॉमी की रिपोर्ट में किया गया है. रिपोर्ट के मुताबिक लॉकडाउन के बाद लगभग 84 प्रतिशत भारतीय घरों की आय में गिरावट आई है. भारत के कुल परिवारों में एक तिहाई परिवार बिना मदद के एक सप्‍ताह से ज्‍यादा गुजारा नहीं कर सकते हैं.रिपोर्ट के मुताबिक भारतीयों के खाते में तत्‍काल पैसा भेजने की सख्‍त जरूरत है.

कोरोना के लिए पाकिस्तान तीसरा सबसे जोखिम वाला देश

दुनिया भर के देश कोरोना वायरस के प्रसार को रोकने के लिए संघर्ष कर रहे हैं और इस बीच एक स्टडी से पता चला है कि पाकिस्तान वायरस से प्रभावित होने वाले सबसे जोखिम वाले देशों में तीसरे स्थान पर है. स्टडी में निगरानी, एकांतवास दक्षता, पहचान क्षमता, स्वास्थ्य तत्परता और सरकारी दक्षता जैसे पैरामीटर के हिसाब से पाकिस्तान काफी निचले पायदान पर पाया गया है.

इमरान खान के नेतृत्व वाली सरकार ने जब से व्यवसायों को अपनी नई स्मार्ट लॉकडाउन नीति के तहत फिर से संचालित किए जाने के साथ सड़क, ट्रेन और हवाई यात्रा की अनुमति दी है, तभी से पाकिस्तान में कोरोनावायरस के मामलों में अचानक वृद्धि देखने को मिली है. पाकिस्तान में फिलहाल कोरोनावायरस के मामलों की संख्या 100,000 का आंकड़ा पार कर गई है, जबकि यहां हर दिन के साथ नए मामले और हताहत होने वालों की संख्या में भी लगातार वृद्धि हो रही है.

देखिये परवाह देश की सोमवार से शुक्रवार टीवी 9 भारतवर्ष पर हर रात 10 बजे