बौद्ध स्तूप पर फोटो खिंचा रहा था भारतीय, भूटान सरकार ने लिया हिरासत में, अब ऐसे हो रहा ट्रोल

डोकुला में 108 स्मारक मंदिर हैं. स्तूप जैसी संरचनाएं जो कि बौद्ध धर्म के लिए बहुत महत्वपूर्ण हैं.

भूटान में धार्मिक बौद्ध स्तूप के कथिक अपमान के आरोप में एक भारतीय टूरिस्ट को हिरासत में लिया गया है. इस व्यक्ति की पहचान अभिजीत रतन के रूप में हुई है जो कि महाराष्ट्र का रहने वाला है. हालांकि उसके बाद में मांफी मांगने के बाद उसे छोड़ दिया गया.

अभिजीत ने बौद्ध स्तूप पर खड़े होकर फोटो खिंचवाई थी, जो कि अब सोशल मीडिया पर खूब वायरल हो रही है. यह घटना उस समय हुई जब अभिजीत 15-बाइक के काफिले के साथ भूटान के ग्रामीण इलाकों में यात्रा कर रहा था.

द भुटानीज़ की रिपोर्ट के अनुसार, इस टीम का नेतृत्व भुटानीज नेशनल द्वारा किया जा रहा था. यह घटना इस हफ्ते ही हुई जब बाइकर्स का काफिला दोचूला दर्रे के आसपास के क्षेत्र में आराम कर रहा था, जो कि थिंपू को पुनाखा से जोड़ता है.

डोकुला में 108 स्मारक मंदिर हैं. स्तूप जैसी संरचनाएं जो कि बौद्ध धर्म के लिए बहुत महत्वपूर्ण हैं. वहां के लोगों का इन स्तूप से काफी लगाव है और वे इन्हें धार्मिक तौर पर पूजते हैं.

सोशल मीडिया पर वायरल हो रही फोटो और वीडियो में आप देख सकते हैं, अभिजीत एक सीढ़ी के सहारे स्तूप पर चढ़ता है और फिर उसपर अलग-अलग पोज़ देकर फोटो खिचवा रहा है.

वहीं अभिजीत की फोटो वायरल होने के बाद कई भारतीय तरह-तरह की प्रतिक्रिया दे रहे हैं. अभिजीत की इस हरकत पर भारतीय लोगों का कहना है कि वे उसकी इस हरकत से शर्मिंदा हैं और भूटान के लोगों से मांफी मांगते हैं.

ये भी पढ़ें-  आठ बार बाएं, दो बार दाएं और तीन बार पीछे चाकुओं से गोदा, अब तक तीन अरेस्ट

राजस्थान से छिन सकता है देश का पहला ग्लोबल काउंटर टेररिज्म सेंटर, 2 साल में नहीं बना डिजाइन