भारतीय नौसेना का ऐतिहासिक कदम, पहली बार युद्धपोत पर तैनात की जाएंगी 2 महिला अधिकारी

भारतीय नौसेना अपनी कई रैंक पर महिला अधिकारियों की नियुक्ति करती रही है, लेकिन कई कारणों से महिलाओं को लंबे समय तक के लिए युद्धोतों पर तैनात नहीं किया जाता था.

सब लेफ्टिनेंट कुमिदिनी त्यागी और सब लेफ्टिनेंट रीति सिंह पहली महिला अधिकारी होंगी जिन्हें युद्धपोत के चालक दल के सदस्यों के रूप में नौसेना के युद्धपोतों पर तैनात किया जाएगा. ये कदम भारतीय नौसेना में लैंगिक समानता के नए पैमाने तय करेगा.

भारतीय नौसेना अपनी कई रैंक पर महिला अधिकारियों की नियुक्ति करती रही है, लेकिन कई कारणों से महिलाओं को लंबे समय तक के लिए युद्धोतों पर तैनात नहीं किया जाता था. इनमें क्रू क्वार्टर में गोपनीयता की कमी और अलग से बाथरूम सुविधा आदि की उपलब्धता मुख्य कारण माने जाते हैं.

हालांकि ये अब इन दो युवा अधिकारियों के कारण बदलने वाला है. ये महिला अधिकारी नौसेना के मल्टी रोल हेलीकॉप्टर पर लगे कई सेंसर्स, जिनमें सोनार कंसोल एंड इंटेलिजेंस, निगरानी और सैन्य परिक्षण (ISR) पेलोड सहित अन्य सेंसर को संचालित करने के लिए ट्रेनिंग ले रही हैं. ये माना जा रहा है कि ये दोनों अधिकारी नौसेना के नए MH-60 R हेलीकॉप्टर पर उड़ान भरेंगी.

भारत ने ऐसे 24 हेलीकॉप्टर्स की खरीद का ऑर्डर दिया हुआ है. इन हेलीकॉप्टर्स को अपनी श्रेणी में सबसे उन्नत मल्टी रोल हेलीकॉप्टर माना जाता है. MH-60R हेलीकॉटर को दुश्मन के जहाजों और पनडुब्बियों का पता लगाने के लिए डिजाइन किया गया है. 2018 में, तत्कालीन रक्षा मंत्री निर्मला सीतारमण ने 2.6 बिलियन डॉलर के अनुमानित सौदे में लॉकहीड-मार्टिन निर्मित हेलिकॉप्टरों के अधिग्रहण को मंजूरी दी थी.

Related Posts