भारतीय रेल की ऐतिहासिक योजना, चलती ट्रेन में यात्रियों को मिलेगी मसाज सर्विस

इंडियन रेलवे के वरिष्ठ अधिकारी ने बताया कि इंदौर से चलने वाली 39 ट्रेनों से ये सुविधा शुरू की जाएगी.
Railway, भारतीय रेल की ऐतिहासिक योजना, चलती ट्रेन में यात्रियों को मिलेगी मसाज सर्विस

भारतीय रेल में सफर करने वालों के लिए एक ऐतिहासिक योजना का ऐलान हुआ है. रेलवे के एक अधिकारी ने शनिवार को जानकारी दी है कि ट्रेन में सफर के दौरान मसाज की सुविधा दी जाएगी. फिलहाल ये सुविधा इंदौर से चलने वाली 39 ट्रेनों में मिलेगी. ये प्रस्ताव वेस्टर्न रेलवे जोन के रतलाम डिवीजन की तरफ से पेश किया गया है.

रेलवे बोर्ड के मीडिया निदेशक राजेश दत्त बाजपेयी ने आईएएनएस को बताया कि ‘रतलाम डिवीजन ने 7 जून से यात्रियों को हेड मसाज और फुट मसाज की सुविधा देने का आदेश जारी किया है.’ ये सर्विस 100 रुपए प्रति पैसेंजर में मिलेगी. बाजपेयी ने बताया कि नई इनोवेटिव नॉन फेयर रेवेन्यू आइडिया स्कीम के तहत ये सुविधा दी जाएगी. हर ट्रेन में तीन से पांच मालिश करने वाले रहेंगे, इन्हें पूरी जांच करने के बाद अनुबंध पर रखा जाएगा और पहचान पत्र दिया जाएगा.

अधिकारी का कहना है कि रेलवे की इस पहल से विभाग को 20 लाख रुपए सालाना की आमदनी होगी. ये कमाई रेलवे को किराए के जरिए आने वाले 90 लाख रुपयों से अलग होगी. मालवा एक्सप्रेस, इंदौर-लिंगमपल्ली हमसफर एक्सप्रेस, अवंतिका एक्सप्रेस, इंदौर-वेरावल महामना एक्सप्रेस, क्षिप्रा एक्सप्रेस, नर्मदा एक्सप्रेस, अहिल्या नगरी एक्सप्रेस, पंचवली एक्सप्रेस, इंदौर-पुणे एक्सप्रेस आदी ट्रेनों पर ये सुविधा मिलेगी.

Railway, भारतीय रेल की ऐतिहासिक योजना, चलती ट्रेन में यात्रियों को मिलेगी मसाज सर्विस

टीवी9 भारतवर्ष संवाददाता कुमार कुंदन को मिली जानकारी के अनुसार यात्रियों को ये सुविधा सुबह 6 बजे से रात 10 बजे तक मिलेगी. पुरुष-महिला दोनों यात्रियों के लिए ये सर्विस है. तेल की गुणवत्ता और हाईजीन का पूरा ध्यान रखा जाएगा. तीन कैटेगरीज मसाज के लिए रखी गई हैं और 100 रुपए से 300 तक इसका खर्च आएगा.

Related Posts