कोहरे की वजह से अगर ट्रेन हुईं लेट तो नहीं करना पड़ेगा आपको इंतजार, रेलवे ने तैयार किया ये प्लान

रेलवे आपको सर्दियों में ट्रेन लेट होने पर सूचना भेज सके इसके लिए जरूरी है कि आप टिकट बुक कराते समय अपने मोबाइल नम्बर की जानकारी रिजर्वेशन फॉर्म में दें. आपके मोबाइल नम्बर को सिस्टम में फीड कर दिया जाएगा जिससे आपको हर आवश्यक मैसेज भेजा जा सकेगा.
Indian Railways Services, कोहरे की वजह से अगर ट्रेन हुईं लेट तो नहीं करना पड़ेगा आपको इंतजार, रेलवे ने तैयार किया ये प्लान

सर्दियों के मौसम में कोहरे के कारण ट्रेनें अक्सर लेट हो जाती हैं जिसकी वजह से यात्रियों को घंटों स्टेशन पर ही इंतजार करना पड़ता है. लेकिन इस बार आपको ऐसा नहीं करना पड़ेगा. इसके लिए सरकार ने खास इंतजाम किए हैं.

इस साल अगर कोहरे के चलते आपकी ट्रेन एक तय समय से अधिक लेट होती है तो आपके फोन पर ट्रेन की लोकेशन और स्टेशन पर पहुंचने के संभावित समय का मैसेज आएगा. इस व्यवस्था से यात्रियों को ट्रेन आने के समय पर ही स्टेशन पहुंचने में मदद मिलेगी. वहीं यात्रियों को ठंड भरी रात में प्लेटफार्म पर अपनी ट्रेन का इंतजार नहीं करना होगा.

रेल मंत्री पीयूष गोयल ने ट्वीट कर इसकी जानकारी भी दी है. ट्वीट में उन्होंने लिखा कि, ‘सर्दियों के मौसम में यात्रियों को बेहतर सुविधा देने के लिए भारतीय रेल तैयार है. इसके लिए ट्रेन के लेट होने की स्थिति में यात्रियों के मोबाइल पर सूचना, रात को विशेष पेट्रोलिंग, व सिग्नल की जानकारी पॉयलट तक पहुंचाने के लिये फॉग सेफ्टी डिवाइस जैसी अनेकों व्यवस्थायें की गयी हैं.’


रेलवे आपको सर्दियों में ट्रेन लेट होने पर सूचना भेज सके इसके लिए जरूरी है कि आप टिकट बुक कराते समय अपने मोबाइल नम्बर की जानकारी रिजर्वेशन फॉर्म में दें. आपके मोबाइल नम्बर को सिस्टम में फीड कर दिया जाएगा जिससे आपको हर आवश्यक मैसेज भेजा जा सकेगा.

ट्रेनों को समय से चलाने के लिए रेलवे ने खास इंतजाम किए हैं. सर्दियों में रात 11 बजे से सुबह 07 बजे तक ट्रैक की निगरानी के लिए खास पेट्रोलिंग व्यवस्था की गई है. वहीं सभी सिग्नलों को फिर से पेंट किया गया है ताकि ये कोहरे में भी सही से नजर आएं.

ट्रेनों में फॉग सेफ डिवाइस लगाई गई है. इसके जरिए इंजन के पायलट तक सिग्नल की जानकारी ऑडियो और वीडियो माध्यमों से आसानी से पहुंच सकेगी. इससे वो आसानी से ट्रेन को चलाने को लेकर फैसला ले सकेगा.

Related Posts