हुर्रियत के सैयद अली गिलानी ने क्या लिखा ऐसा कि लोग करने लगे बैन की मांग?

कश्मीरी अलगाववादी नेता गिलानी को ट्विटर पर बैन करने की मांग उठ रही है. जानिए उन्होंने ऐसा क्या लिखा और बोला कि उनके खिलाफ माहौल बन गया है.

जम्मू-कश्मीर में सुरक्षाबलों की अतिरिक्त तैनाती, अमरनाथ यात्रा को तय समय से पहले समाप्त किए जाने और सैलानियों को कश्मीर छोड़ने की खबरों के बीच राजनीति में हलचल तेज़ है. पीडीपी आधी रात बैठक बुलाकर सभी दलों से एकजुट होने की अपील कर रही है तो पूर्व सीएम और नेशनल कॉन्फ्रेंस के उमर अब्दुल्ला राज्यपाल से मुलाकात कर केंद्र सरकार से संसद में जम्मू कश्मीर के ताजा हालात पर बयान की मांग कर रहे हैं.

gilani, हुर्रियत के सैयद अली गिलानी ने क्या लिखा ऐसा कि लोग करने लगे बैन की मांग?

ये तो बात हुई मुख्यधारा के दलों की लेकिन सबसे ज़्यादा हालत पतली है अलगाववादियों की. पाकिस्तान समर्थक अलगाववादी नेता और हुर्रियत कॉन्फ्रेंस में कट्टरपंथी गुट के चेयरमैन सैयद अली गिलानी ट्विटर पर दुनिया भर के मुसलमानों से अपील कर रहे हैं.

आतंकवादी फंडिंग समेत कई मामलों में जांच के दायरे में चल रहे गिलानी ने ट्वीट कर धरती पर रह रहे सभी मुसलमानों से बचाने की गुहार लगाई है. गिलानी ने ट्वीट कर कहा है कि भारतीय मानव जाति के इतिहास का सबसे बड़ा नरसंहार शुरू करने वाले हैं.

वैसे गिलानी की ऐसी हरकतें नई नहीं हैं.कुछ दिन पहले उनका एक और वीडियो वायरल हुआ था जिसमें वो भीड़ से हम पाकिस्तानी, पाकिस्तान हमारा का नारा लगवाते दिख रहे थे. वीडियो में गिलानी अपनी ज़हरीली ज़ुबान में पाकिस्तान को भी समझा रहे हैं कि ना उनके यहां समाजवाद चलेगा और ना सेकुलरिज़्म.. वहां सिर्फ इस्लाम चलेगा.

 गौरतलब है कि गिलानी अपने अकाउंट से लगातार भारत विरोधी पोस्ट कर रहे हैं. इसके लिए ट्विटर पर उनको ट्रोल भी किया जा रहा है. कई यूजर्स ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और गृह मंत्री अमित शाह से गिलानी को पाकिस्तान भेजने की मांग की है, वहीं कई यूजर्स ने उनका अकाउंट बैन करने की मांग की है.