INX Media Case: चिदंबरम समेत 14 पर चार्जशीट, इंद्राणी ने कहा- डील में दिए थे 5 मिलियन डॉलर

सुप्रीम कोर्ट को CBI ने बताया कि इस भ्रष्टाचार मामले की जांच की जा रही है, वहीं सिंगापुर और मॉरीशस को भेजे गए लैटर्स रोगेटरी पर जवाब का इंतजार किया जा रहा है.

CBI ने आज रोउज़ एवेन्यू कोर्ट में INX मीडिया केस में 120बी, 420, 468,471 IPC, सेक्शन 9 एन्ड 13(2) रेड विद 13,1(d) पीसी एक्ट 88 के तहत चार्जशीट दायर की. इंद्राणी मुखर्जी ने पूछताछ में बताया था कि INX डील में 5 मिलियन यूएस डॉलर दिए गए थे.

जिनके खिलाफ चार्जशीट दायर हुई उनके नाम हैं-

– INX Media Pvt Ltd (वर्तमान में 9x Media Pvt Ltd)

– INX News Pvt Ltd (वर्तमान में Direct news pvt ltd)

– कार्ति पी चितम्बर

– चैस मैनेजमेंट सर्वेससेस Pvt Ltd

– एडवांटेज स्ट्रेटेजिक कंसल्टिंग Pvt Ltd

– अजित कुमार डुंगडुंग, एक्स सेक्शन ऑफिसर, FIBP यूनिट ऑफ फाइनेंस

– रबिन्द्र प्रसाद, एक्स अंडर सक्रेटरी, FIBP

– प्रदीप कुमार बग्गा, एक्स OSD, डिपार्टमेंट ऑफ इकनोमिक अफेयर्स

– अनूप के पुजारी, एक्स जॉइंट सक्रेटरी, इंचार्ज ऑफ फॉरेन ट्रेड

– प्रबोध सक्सेना, एक्स डायरेक्टर, FIBP Unit मिनिस्ट्री ऑफ फाइनेंस

– सिंधु श्री खुल्लर, एक्स एडिशनल सक्रेटरी, इकनोमिक अफेयर्स

– भास्कर रमन, सीए

– पीटर मुखेरजिया, तत्कालीन डायरेक्टर, INX Media Pvt Ltd

– पी चितम्बर, तत्कालीन फाइनेंस मिनिस्टर

सुप्रीम कोर्ट को CBI ने बताया कि इस भ्रष्टाचार मामले की जांच की जा रही है, वहीं सिंगापुर और मॉरीशस को भेजे गए लैटर्स रोगेटरी पर जवाब का इंतजार किया जा रहा है.

क्या था मामला?

चिदंबरम पर आईएनएक्स मीडिया केस में फॉरेन इन्वेस्टमेंट प्रमोशन बोर्ड (एफआईपीबी) से गैरकानूनी तौर पर मंजूरी दिलाने के लिए रिश्वत लेने का आरोप है. ये मामला 2007 का है, जब पी. चिदंबरम यूपीए-2 सरकार में वित्त मंत्री थे.

INX मीडिया प्राइवेट लिमिटेड ने 403 करोड़ रुपए रिसीव किए, जबकि अप्रूव अमाउंट था 4 करोड़ 62 लाख. जांच में यह भी पता चला कि कार्ति चिदंबरम ने एक कंपनी फ्लोट की- एडवांटेज स्ट्रेजिक कंसल्टिंग प्राइवेट लिमिटेड और इसके जरिए कंसल्‍टेंसी के तौर पर पेमेंट ली। कंपनी ने बिना फीस लिए 9.96 लाख ASCPL के अकाउंट में फीस ली और वो भी बिना कोई सर्विस दिए. इस मामले में इंद्राणी मुखर्जी सरकारी गवाह बन गईं, जिन्‍होंने पी चिदंबरम और उनके बेटे कार्ति चिदंबरम के रोल के बारे में FDI के अप्रूवल के बारे में बताया.