तिहाड़ जेल में ही मनाना पड़ेगा चिदंबरम को दशहरा, बेल मिली तो गवाहों को कर सकते हैं प्रभावित

सुप्रीम कोर्ट ने कहा कि मामले में तफसील से सुनवाई करनी है इसलिए मामले की सुनवाई अब 15 अक्टूबर से 2 बजे की जायेगी.

INX मीडिया मामले (INX Media Case) में पूर्व वित्त मंत्री पी चिदंबरम की जमानत अर्जी पर सुनवाई करते हुए सुप्रीम कोर्ट (Supreme Court) ने सीबीआई को शुक्रवार को नोटिस जारी किया.

पूर्व वित्त मंत्री पी चिदंबरम के वकील कपिल सिब्बल ने सुप्रीम कोर्ट में कहा कि हाईकोर्ट में कहा गया कि पी चिदंबरम सबूतों से छेड़छाड़ कर सकते हैं. सिब्बल ने कहा कि चिदंबरम के विदेश जाने की संभावना एकदम नहीं है. उन्होंने अपना पासपोर्ट सरेंडर किया हुआ है. उनके विदेश जाने का सवाल ही नहीं उठता.

सुप्रीम कोर्ट ने कहा कि मामले में तफसील से सुनवाई करनी है इसलिए मामले की सुनवाई अब 15 अक्टूबर से 2 बजे की जायेगी. मतलब साफ़ है कि चिदंबरम को अब दशहरा तिहाड़ जेल में ही मनाना पड़ेगा.

दिल्ली उच्च न्यायालय ने सोमवार को आईएनएक्स मामले में उनकी जमानत याचिका खारिज करते हुए कहा था कि जांच अग्रिम चरण में है, इसलिए इससे इनकार नहीं किया जा सकता है कि वो गवाहों को प्रभावित कर सकते हैं.