‘मेरी यूनिट है तुम्‍हारा थाना नहीं’, IPS ऑफिसर के ‘इंचार्ज’ कहने पर भड़के कर्नल

कर्नल ने अपनी चिट्ठी में लिखा है, "मेरी यूनिट कोई थाना नहीं है, इसलिए यहां कोई इंचार्ज नहीं है. मुझे लगता है कि शायद आपके क्‍लेरिकल स्‍टाफ को इंडियन आर्मी के रैंक स्‍ट्रक्‍चर का पता नहीं."

नई दिल्‍ली: हिमाचल प्रदेश में तैनात एक कर्नल ने एसपी हमीरपुर को सेना की रैकिंग के बारे में समझाया है. दरअसल यह कर्नल इस बात से खफा थे कि एसपी की ओर से भेजी गई चिट्ठी में उनको ‘इंचार्ज’ लिखा गया था. कर्नल ने लिखा है कि उनकी यूनिट ‘कोई थाना नहीं है’ और आगे ऐसा हुआ तो एसपी की चिट्ठी डस्‍टबिन में जाएगी.

हिमाचल प्रदेश (इंडिपेंडेंट) कंपनी NCC के कमांडिंग ऑफिसर कर्नल मोनाश बख्‍शी ने हमीरपुर एसपी अरिजित सेन ठाकुर को चिट्ठी लिखी है. 9 अगस्‍त की इस चिट्ठी में कर्नल ने लिखा है कि उन्‍हें मिल रही चिट्ठियों में ‘पत्र लेखन का प्रोटोकॉल फॉलो नहीं हो रहा है.’

कर्नल ने समझा दिया पूरा प्रोटोकॉल

द इंडियन एक्‍सप्रेस के मुताबिक, कर्नल ने अपनी चिट्ठी में लिखा है, “चूंकि यह कोई थाना नहीं है, इसलिए यहां कोई इंचार्ज नहीं है. मुझे लगता है कि शायद आपके क्‍लेरिकल स्‍टाफ को जानकारी नहीं है या उन्‍हें इंडियन आर्मी के रैंक स्‍ट्रक्‍चर का पता नहीं.”

इसके बाद कर्नल ने एसपी को सेना के रैंक स्‍ट्रक्‍चर के बारे में समझाया. कर्नल ने लिखा है, “ये तो तय है कि LBSNAA, मसूरी में आपको ट्रेनिंग के दौरान आर्मी यूनिट के साथ रहना पड़ा होगा और इंडियन आर्मी के रैंक स्‍ट्रक्‍चर के बारे में बताया गया होगा. अब मैं आपसे सुधार की अपेक्षा करता हूं.”

ये भी पढ़ें

दिल जीत लेगा महिला का आर्मी जवान के पैर छूने वाला VIDEO, लोग कर रहे तारीफ

जवान को सैल्यूट कर बोली मासूम- आप बहुत अच्छा काम करते हो, वीडियो Viral