चंद्रयान-2 पहुंचा चंद्रमा के और करीब, भेजी क्रेटर्स की तस्वीर

भारतीय जियोसिंक्रोनस सैटेलाइट लॉन्च व्हीकल-मार्क तृतीय (GSLV-MK lll) द्वारा 22 मई को चंद्रयान-2 लॉन्च किया गया था.

भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन (ISRO) ने सोमवार को चंद्रयान-2 अंतरिक्ष यान के टेरेन मैपिंग कैमरा-2 द्वारा चंद्रमा की सतह और उसके क्रेटर्स (गड्ढों) की तस्वीरों का एक नया सेट जारी किया. ISRO के अनुसार, इन तस्वीरों को 23 अगस्त को करीब 4,375 किलोमीटर की ऊंचाई से लिया गया, जिसमें जैक्सन, मित्रा, माच और कोरोलेव जैसे क्रेटर्स दिखाई दे रहे हैं.

ISRO ने कहा कि चंद्रमा से दूर उत्तरी गोलार्ध में स्थित जैक्सन एक प्रभावी क्रेटर है. क्रेटर का व्यास 71 किमी का है. माच क्रेटर के पश्चिमी बाहरी किनारे पर एक रोचक फीचर है, जिसका नाम मित्रा है. मित्रा का व्यास 92 किमी है.

ISRO ने कहा, “इसका नाम प्रोफेसर शिशिर कुमार मित्रा के नाम पर रखा गया है, जो भारतीय भौतिक शास्त्री थे और पद्म भूषण से सम्मानित थे. वह अपने आयनोस्फीयर व रेडियोफिजिक्स के कार्यो के लिए जाने जाते हैं.”

कोरोलेव क्रेटर में विभिन्न आकार के छोटे क्रेटर हैं. इसरो ने सोमरफील्ड व किर्कवुड जैसे क्रेटरों की तस्वीर भी जारी की है.

इससे पहले 21 अगस्त को चंद्रयान -2 ने चांद की दूसरी कक्षा में सफलतापूर्वक प्रवेश किया था. जिसके बाद चंद्रयान-2 ने लूनर सतह से लगभग 2650 किमी की ऊंचाई से ली गई चांद की तस्वीर वायरल हुई.  ISRO (इंडिया स्पेस रिसर्च ऑर्गनाइजेशन) ने ट्वीट कर इस बात की जानकारी दी थी.

ये भी पढ़ें- भारत आने वाली विदेशी एयरलाइंस की फ्लाइट्स में मैकबुक के कुछ मॉडल्स पर लगा बैन