‘जो न बोले जय श्री राम…’, सोशल मीडिया पर धमकी भरे वायरल वीडियो को हटाने की मांग

यूजर्स के मुताबिक सिंगर पर तत्काल F.I.R. दर्ज होनी चाहिए. सिंगर खुलेआम मॉब लिंचिग और हिंसा की भावना फैला रहा है.

नई दिल्ली: एक तरफ जहां देश में मॉब लिंचिंग की घटनाएं बढ़ती जा रही हैं वहीं इसे तूल देने के लिए सोशल मीडिया पर एक गाने का वीडियो वायरल हो रहा है. वीडियो में सिंगर का नाम वरुण बहार बताया गया है. गाने के बोल हैं-

भगवाधारी हिंदू भाई, चले हैं अपना सीना तान
जो न बोले जय श्री राम, भेज दो उसको कब्रिस्तान


इस गाने को लेकर लोगों ने सोशल मीडिया पर विरोध जताया है और पुलिस और सरकार से सिंगर के खिलाफ कार्रवाई करने की मांग की है. यूजर्स के मुताबिक सिंगर पर तत्काल F.I.R. होनी चाहिए. सिंगर खुलेआम मॉब लीचिंग और हिंसा का आवाहन कर रहा है.

वहीं वकील तहसीन पूनावाला ने दिल्ली पुलिस को टैग कर वीडियो मेकर के खिलाफ एक्शन लेने की मांग की है. तहसीन ने ये भी लिखा कि अगर दिल्ली पुलिस ने इस मामले में कोई एक्शन नहीं लिया तो वो इसे पीएम मोदी के घर के बाहर चलाएंगे.

ऊजैर हसन रिजवी ने लिखा, ‘हाल में हो रही मॉब लिंचिंग की घटनाओं को नजरंदाज करते हुए भारत में इस्लामोफोबिक गाने बन रहे हैं, जिसके बोल हैं जो न बोले जय श्री राम, भेज दो उसको कब्रिस्तान.’

पॉलिटिकली एक्टिव रहने वाले सुधींद्र कुलकर्णी ने भी इस गाने पर आपत्ति जताई है. उन्होंने लिखा, ‘एक हिंदू और राम भक्त होने के नाते मैं ये वीडियो देखकर शॉक्ड हूं. पीएम मोदी अगर आपकी सरकार इन एंटी-नेशनल लोगों को सजा नहीं देती है, तो ये भारतीय संविधान के खिलाफ होगा.

लोगों ने यू-ट्यूब और बाकी सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म्स से इस वीडियो को डिलीट करने की मांग की है. बावजूद इसके ये गाना अभी भी सोशल मीडिया पर मौजूद है और लोग इसे धड़ल्ले से शेयर कर रहे हैं.

गौरतलब है कि मॉब लिंचिंग को लेकर 49 बॉलीवुड हस्तियों ने 23 जुलाई प्रधानमंत्री को चिट्ठी लिखी है और चिंता जताई है. चिट्ठी लिखने वालों में अनुराग कश्यप, अपर्णा सेन, अदूर गोपालकृष्णन, मणिरत्नम और कोंकणा सेन शर्मा सहित कई हस्तियों के नाम शामिल हैं.

ये भी पढ़ें- अकबरुद्दीन ओवैसी ने दोहराई ’15 मिनट’ वाली बात, कहा ‘दुनिया उससे डरती है जो डराना जानता है’