जम्मू कश्मीर: मुठभेड़ में मारे गए हिजबुल मुजाहिदीन के 3 आतंकी, एक के खिलाफ दर्ज थीं 19 FIR

डीजीपी दिलबाग सिंह का कहना है कि दक्षिण कश्मीर में हिजबुल मुजाहिदीन पूरी तरह से खत्म होने की कगार पर है.

कश्मीर के शोपियां जिले में सोमवार को सुरक्षा बलों के साथ हुई मुठभेड़ में आतंकी संगठन हिजबुल मुजाहिदीन के तीन आतंकवादी मारे गए. सेना की तरफ से जारी एक बयान में कहा गया है, “एक संयुक्त अभियान में आतंकी संगठन हिजबुल मुजाहिदीन के तीन आतंकवादी मारे गए हैं. हथियारों का जखीरा बरामद हुआ है.”

मारे गए एक आतंकवादी की पहचान आदिल शेख के रूप में हुई है, जिसके ऊपर श्रीनगर के जवाहर नगर से पीपुल्स डेमोक्रेटिक पार्टी के विधायक एजाज मीर के आवास से 29 सितंबर, 2018 को आठ हथियार लूटने के आरोप हैं. मुठभेड़ में मारा गए दूसरे आतंकवादी का नाम वसीम वानी है, जो शोपियां का निवासी है और शीर्ष हिजबुल मुजाहिदीन का आतंकी है. तीसरे आतंकी का नाम जहांगीर है.

वानी के खिलाफ दर्ज थीं 19 FIR

जम्मू-कश्मीर के डीजीपी दिलबाग सिंह ने बताया, “शोपियां में आज (सोमवार) हमने 3 आतंकवादियों को मार गिराया है. उनमें से एक, उनका कमांडर वसीम अहमद वानी 2017 से सक्रिय था और हिजबुल मुजाहिदीन में शीर्ष स्थान पर था. उसके खिलाफ चार नागरिकों और चार पुलिसकर्मियों की हत्या समेत 19 मामलों में FIR दर्ज हैं.”

प्रारंभिक जानकारी के अनुसार, मुठभेड़ शोपियां के वाची इलाके में हुई, जहां आतंकी एक घर में छिपे हुए थे. इस अभियान में सेना, सीआरपीएफ और जम्मू एवं कश्मीर पुलिस के लोग शामिल थे. डीजीपी दिलबाग सिंह का कहना है कि दक्षिण कश्मीर में हिजबुल मुजाहिदीन पूरी तरह से खत्म होने की कगार पर है.

ये भी पढ़ें: कौन हैं ‘लेडी सिंघम’ प्रिया वर्मा, राजगढ़ में प्रदर्शनकारी को पीटते हुए Video Viral