ये दो कश्मीरी अफसर घाटी में पाकिस्तान के प्रोपेगेंडा और फेक न्यूज की खोल रहे हैं पोल

इनमें से एक हैं श्रीनगर में तैनात आईपीएस अधिकारी इम्तियाज हुसैन और दूसरे हैं श्रीनगर के डिप्टी कमिश्नर शाहिद चौधरी.

जम्मू कश्मीर से आर्टिकल 370 हटाए जाने के बाद से ही पाकिस्तान की ओर से तरह-तरह की फेक न्यूज उनके प्रोपेगेंडा के तहत फैलाई जा रही हैं. इन झूठी खबरों का बड़ी है बेबाकी से खंडन कर रहे हैं दो कश्मीरी अधिकारी. इनमें से एक हैं श्रीनगर में तैनात आईपीएस अधिकारी इम्तियाज हुसैन और दूसरे हैं श्रीनगर के डिप्टी कमिश्नर शाहिद चौधरी.

आईपीएस अधिकारी इम्तियाज हुसैन अपनी बेबाकी और ट्विटर पर सक्रियता के लिए पहले से ही जाने जाते हैं. इस बार वह सुर्खियों में तब आए जब उन्होंने घाटी में डर का माहौल पैदा करने की पाकिस्तान की कोशिश की हवा निकाल दी. दरअसल एक पाकिस्तानी डाकू ने भारत के खिलाफ कश्मीर में लड़ने का ऐलान किया था. उस डाकू की चेतावनी को इम्तियाज ने ट्विटर पर ही ऐसा जवाब दिया जिससे शायद वह भारत का नाम सुनते ही थरथरा उठेगा.

इम्तियाज ने ट्वीट कर बताया, “पाकिस्‍तान के सिंध का एक डाकू कश्‍मीर में लड़ाई लड़ना चाहता है. जैसे कि अब तक जो लोग कश्‍मीर में लड़ने के लिए आए थे, वे कमजोर डाकू थे. पाकिस्‍तानी सेना हमेशा से ही अपना काम ऐसे डाकुओं से करती रही है. वो खुद भी डाकू जैसे ही हैं. इस डाकू का भी वही हाल होगा जो इससे पहले वाले डाकुओं का हुआ है.’

वहीं दूसरे अधिकारी शाहिद चौधरी आईएएस हैं और श्रीनगर के डिप्टी कमिश्नर होने के नाते इलाके की मौजूदा स्थिति से लगातार लोगों को अवगत करा रहे हैं. इसी के साथ वह पाकिस्तान के प्रोपेगेंडा के तहत फैलाई जा रही फेक न्यूज की भी पोल खोल रहे हैं. दरअसल एक विदेशी पत्रकार ने ट्वीट कर बताया कि कश्मीर के अस्पतालों में फोन काम नहीं कर रहें.

इस पत्रकार के ट्वीट का जवाब देते हुए आईएएस शाहिद ने ट्वीट कर बताया कि बेहतर होगा कि घाटी में अफवाह फैलाने से बचें. साथ ही उन्होंने पत्रकार की इस फेक न्यूज की पोल खोलते हुए बताया कि मेडिकल कॉलेज के प्रिंसिपल और अन्य प्रमुखों के फोन पूरे दिन काम कर रहे हैं. उन्होंने बड़े ही शांत तरीके से निवेदन भी किया कि तथ्यों का सम्मान करें और अटकलों के आधारा पर कश्मीर के अलावा कई मसले हैं, उन पर ही ट्वीट करें.

ये भी पढ़ें- भारत के परमाणु बमों पर हिंदुत्ववादी मोदी सरकार के कंट्रोल को गंभीरता से ले दुनिया: इमरान खान