कश्मीर पर किसी बाहरी के दखल की कोई जरूरत नहीं: सैयद अकबरुद्दीन

जम्मू कश्मीर के मुख्य सचिव ने बताया कि सरकार दुनियाभर से आतंकी संगठनों की जानकारी इकट्ठा कर रही है, ताकि घाटी से आतंकवाद को पूरी तरह से मुक्त किया जा सके.

Live Updates:

  • प्रेस कॉन्फ्रेंस में जवाब देते हुए भारत के राजदूत ने साफ किया कि लोकतंत्र में आतंकवाद की कोई जगह नहीं है. पाकिस्तान से बातचीत के सवाल पर उन्होंने कहा कि अगर वह आतंक को खत्म करते हैं तो हम बात करने के लिए तैयार हैं.
  • UN में भारत के राजदूत सैयद अकबरुद्दीन ने कहा कि कश्मीर पूरी तरह से भारत का अंदरूनी मामला है. उन्होंने कहा कि जेहाद की बात करते हुए पाकिस्तान हिसां फैला रहा है. उन्होंने साफ किया कि हमारे फैसलों का असर किसी और देश पर नहीं पड़ा. अकबरुद्दीन ने कहा कि भारत-पाकिस्तान के बीच हम आज भी शिमला समझौते पर अडिग हैं.
  • संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद की बैठक के बाद UN में भारत के राजदूत अकबरुद्दीन ने कहा कि कश्मीर पर दूसरे पक्ष को दखल देने की कोई जरूरत नहीं है. उन्होंने कहा कि 370 हटाना हमारा आंतरिक मामला है. कश्मीर के विकास के लिए आर्टिकल 370 हटाया गया है. उन्होंने बताया कि धीरे-धीरे कश्मीर से सारे प्रतिबंध हटा रहे हैं.
  • संयुक्त राष्ट्र में पाकिस्तान की हुई किरकिरी. आर्टिकल 370 पर रूस ने चीन को लगाई फटकार.
  • UNSC में कश्मीर को लेकर भारत के पक्ष में आया रूस. रूस ने कश्मीर को लेकर सिर्फ द्विपक्षीय बातचीत का किया समर्थन.
  • कश्मीर मसले को लेकर संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद में बैठक जारी है. इसी बीच खबर आई है कि पाकिस्तानी प्रधानमंत्री इमरान खान ने अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप से फोन पर बातचीत की है.

जम्मू कश्मीर के 2400 छात्रों को सुप्रीम कोर्ट से मिली राहत

जम्मू कश्मीर के 2400 छात्रों को सुप्रीम कोर्ट से राहत मिल गई है. प्रधानमंत्री विशेष छात्रवृति योजना के तहत देश के अन्य कॉलेजों में दाखिला लेने की तारीख सुप्रीम कोर्ट ने बढाकर 15 सितंबर कर दी है. छात्रों के लिए जम्मू कश्मीर सरकार सुप्रीम कोर्ट पहुंची थी. जम्मू कश्मीर सरकार ने राज्य के हालात को देखते हुए इंजीनियरिंग मे दाखिले की समय सीमा बढ़ाने की मांग करते हुए याचिका दाखिल की थी.

जम्मू कश्मीर के वकील शोएब आलम ने सुप्रीम कोर्ट में जस्टिस रोहिंटन फली नरीमन की पीठ को बताया कि राज्य में इंजीनियरिंग में दाखिले के लिए काउंसलिंग पूरी हो चुकी है और 15 अगस्त तक छात्रों को दाखिले लेने थे. लेकिन जम्मू कश्मीर में धारा 144 और हालत को देखते हुए ये संभव नहीं है और ये छात्र जम्मू-कश्मीर से बाहर नहीं निकल पा रहे हैं.

इसलिए सुप्रीम कोर्ट जम्मू कश्मीर के छात्रों के भविष्य को देखते हुए ये समय 15 सितंबर तक बढ़ा दे. कोर्ट ने सहमति जताते हुए ये तारीख बढ़ा दी है.

  • भारतीय रेलवे के मुताबिक जोधपुर से कराची के बीच चलने वाली थार एक्सप्रेस ट्रेन अगले आदेश तक रद्द कर दी गई है.
  • जम्मू-कश्मीर में सभी भारतीय सेना, वायु सेना और सुरक्षा बलों के ठिकानों को कश्मीर घाटी में गड़बड़ी पैदा करने के पाकिस्तानी प्रयासों के मद्देनजर पाकिस्तान समर्थित आतंकवादी समूहों द्वारा संभावित प्रयास के खिलाफ सतर्कता बरतने को कहा गया: आधिकारिक सूत्र
  • श्रीनगर की मस्जिदों में स्थानीय नागरिकों ने शुक्रवार की नमाज अदा की.
  • ऑल जम्मू-कश्मीर पंचायत कॉन्फ्रेंस के अध्यक्ष शफीक मीर ने कहा, हमारी टीम ने कश्मीर घाटी के आंतरिक क्षेत्रों का दौरा किया है. कश्मीर के बाहर रहने वाले कश्मीरियों के लिए अच्छी खबर है कि पिछले 10 दिनों में राज्य के किसी भी कोने से एक भी अप्रिय घटना की सूचना नहीं मिली है.



मुख्य सचिव ने कॉन्फ्रेंस में बताया घाटी में बैन लगाने का कारण

  • जम्मू कश्मीर के मुख्य सचिव बी.एस सुब्रमण्यम ने प्रेस कॉन्फ्रेंस कर बताया कि घाटी से आर्टिकल 370 हटाए जाने के बाद एक भी मौत नहीं हुई है. उन्होंने जानकारी दी की सोमवार से घाटी के सभी स्कूल और कॉलेज खुल जाएंगे. 22 में से 12 जिलों में माहौल सामान्य है, जबकि 5 जिलों में कुछ सीमित प्रतिबंधों के साथ कामकाज हो रहा है.

  • सुब्रमण्यम ने कहा कि आज (शुक्रवार) से जम्मू के कई सरकारी दफ्तरों में सुचारू रूप से कामकाज हुआ. जम्मू कश्मीर के मुख्य सचिव ने बताया कि सरकार दुनियाभर से आतंकी संगठनों की जानकारी इकट्ठा कर रही है, ताकि घाटी से आतंकवाद को पूरी तरह से मुक्त किया जा सके.
  • उन्होंने बताया कि घाटी में आर्टिकल 370 हटाए जाने के बाद किसी भी तरह से माहौल न बिगड़े इसलिए कुछ सर्विसेज, जैसे फोन, इंटरनेट एक्सेस और टीवी ऑपरेटर्स पर रोक लगाई गई थी. घाटी में कुछ लोगों की गिरफ्तारी किए जाने की जानकारी भी उन्होंने दी.