देशद्रोह मामला : दिल्ली सरकार ने कन्हैया कुमार के खिलाफ चार्जशीट दाखिल करने की इजाजत दी

पुलिस ने चार्जशीट में दावा किया था कि कन्हैया कुमार ने 9 फरवरी, 2016 को एक कार्यक्रम के दौरान विश्वविद्यालय परिसर में एक जुलूस का नेतृत्व किया था जिसमें देशद्रोही नारे लगाए गए थे.
JNU sedition case, देशद्रोह मामला : दिल्ली सरकार ने कन्हैया कुमार के खिलाफ चार्जशीट दाखिल करने की इजाजत दी

दिल्ली सरकार ने शुक्रवार को जेएनयूएसयू के पूर्व अध्यक्ष कन्हैया कुमार और दो अन्य के खिलाफ 2016 के देशद्रोह के मामले में मुकदमा चलाने के लिए दिल्ली पुलिस को इजाजत दे दी है. यह फाइल पिछले साल 5 मई से गृह विभाग के पास थी. आधिकारिक रिकॉर्ड के मुताबिक पुलिस ने पिछले साल 14 जनवरी को मामले में चार्जशीट दाखिल करने से दो घंटे पहले अभियोजन की मंजूरी के लिए दिल्ली सरकार को आवेदन दिया था.

मंजूरी न मिलने के चलते अदालत ने पुलिस को फटकार लगाई और अभियोजन के लिए दिल्ली सरकारी की मंजूरी लाने के लिए कहा. पुलिस ने चार्जशीट में दावा किया था कि कन्हैया कुमार ने 9 फरवरी, 2016 को एक कार्यक्रम के दौरान विश्वविद्यालय परिसर में एक जुलूस का नेतृत्व किया था जिसमें देशद्रोही नारे लगाए गए थे.

कन्हैया कुमार के अलावा, तब जेएनयू के छात्र उमर खालिद, अनिर्बान भट्टाचार्य और अन्य के खिलाफ भी कथित रूप से देश विरोधी नारेबाजी करने के आरोप में चार्जशीट दाखिल की गई थी. चार्जशीट के मुताबिक ये नारेबाजी 2001 के संसद हमले के दोषी अफजल गुरु को फांसी देने के लिए आयोजित कार्यक्रम के दौरान लगाए गए थे.

ये भी पढ़ें : कहां तुम चले गए….! सामने कफन में लिपटे पिता की बंद आंखों से सवाल करता मासूम

Related Posts