भारतीय सेना ने खोली पाकिस्तान के झूठ की पोल, दिखाए F16 मार गिराने के सबूत

एयर स्ट्राइक के बाबत सैन्य अधिकारियों ने कहा कि पाकिस्तान में हम जो करना चाहते थे, वो हमने किया. हमारा मिशन पूरा हुआ.

नयी दिल्ली: 27 फरवरी को सेना के ठिकानों को निशाना बनाने के मकसद से भारतीय सीमा में घुसे पाकिस्तान के कुछ विमानों को वायु सेना ने खदेड़ दिया. इस कार्रवाई में जहां पाक के F16 को मार गिराया गया वहीं भारतीय वायु सेना का एक मिग क्रैश कर गया. यह जानकारी गुरुवार को सेना, वायु सेना और नेवी की सयुंक्त प्रेस कांफ्रेंस में दी गयी.

प्रेस कांफ्रेंस को बारी बारी मेजर जनरल सुरेंद्र सिंह बहल, एयर वाइस मार्शल आरजीके कपूर और रियर एडमिरल डीएस गुजराल ने अपनी बात रखी. कांफ्रेंस में बताया गया कि जवाबी कार्रवाई में भारत का एक मिग 21 भी क्रैश कर गया. सेना ने कहा कि सरहद पर बार बार फायरिंग से पाकिस्तान बाज़ नहीं आ रहा है. पाकिस्तान की तरफ से लगातार फायरिंग हो रही है. हालांकि हम किसी भी स्थिति से निपटने को पूरी तरह तैयार हैं. इस दौरान सेना ने AMRAAM मिसाइल के टुकड़े दिखाए, जो कि F16 से ही दागी जाती है.

35 बार सीजफायर का उल्लंघन
पाकिस्तान के झूठ का पर्दाफाश करते हुए सेना ने बताया कि वो बार बार ये कह रहा है कि उसने हमारे दो विमान मार गिराए, बल्कि सच्चाई इससे पूरी उलट है. पाकिस्तान ने दो दिनों के भीतर करीब 35 बार सीजफायर का उल्लंघन किया है. प्रेस कांफ्रेंस में पायलट अभिनन्दन की घर वापसी पर ख़ुशी जताई गयी. सेना ने कहा कि हम खुश हैं कि हमारा पायलट वापस आ रहा है, एक बार वह आ जाए तब हम देखते हैं कि आगे क्या किया जा सकता है.

मिशन में हुए कामयाब
बालाकोट में आतंक की फैक्ट्री को तबाह करने के बाबत कहा गया कि भारतीय सेना अपने मिशन में कामयाब हुई. सैन्य अधिकारियों ने कहा कि पाकिस्तान में हम जो करना चाहते थे, वो हम वहां से करके लौटे. आतंकवादियों के कैंपों को क्षति पहुंची है, इसके सबूत हैं. हालांकि अभी संख्या के बारे में बताना जल्दबाजी होगी.