अयोध्या केस में फैसला सुनाने वाले जस्टिस नजीर को जान का खतरा, मिली Z कैटेगरी सुरक्षा

गृह मंत्रालय ने जेड कैटेगरी की सुरक्षा मुहैया कराने के लिए केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल (सीआरपीएफ) और स्थानीय पुलिस को आदेश दिया है.

अयोध्या मामले में फ़ैसला सुनाने वाले सुप्रीम कोर्ट के जस्टिस एस अब्दुल नज़ीर को ख़तरा है. जिसके बाद केंद्र सरकार ने जस्टिस अब्दुल नज़ीर और उनके परिवार को जेड कैटेगरी की सुरक्षा देने का फ़ैसला किया है.

प्रतिबंधित संगठन पॉपलुर फ्रंट ऑफ़ इंडिया (पीएफआई) से जस्टिस नज़ीर और उनके परिजनों को ख़तरे को देखते हुए सुरक्षा देने का फ़ैसला किया है.

गृह मंत्रालय ने जेड कैटेगरी की सुरक्षा मुहैया कराने के लिए केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल (सीआरपीएफ) और स्थानीय पुलिस को आदेश दिया है.

सुरक्षा एजेंसियों ने जस्टिस नजीर को पीएफआई से खतरा बताया था. मंत्रालय के पत्र में लिखा गया है कि वह राज्य में जहां कहीं भी जाएंगे कर्नाटक राज्य के कोटे से उन्हें जेड श्रेणी सुरक्षा प्रदान की जाएगी। उनके परिवार की सुरक्षा भी बढ़ाई जाएगी.