‘मुझे गिरफ्तार करेंगे तो समस्‍याएं बढ़ जाएंगी’, गोडसे पर बयान के बाद विवाद पर बोले कमल हासन

प्रेस कॉन्‍फ्रेंस में हासन ने कहा कि "मुझे लगता है कि राजनीति का स्‍तर गिरता जा रहा है."

चेन्‍नई: मक्‍कल नीधि मय्यम (MNM) अध्‍यक्ष कमल हासन ने ‘राजनीति के गिरते स्‍तर’ पर चिंता जताई है. चेन्‍नई एयरपोर्ट पर शुक्रवार (17 मई) को एक प्रेस कॉन्‍फ्रेंस में उन्‍होंने कहा कि उन्‍हें डर नहीं लगता. एक दिन पहले ही करूर जिले में जनसभा करते समय हासन के मंच पर अंडे, पत्‍थर और चप्‍पल फेंके गए थे. इस हमले में हासन बाल-बाल बच गए थे.

ANI के मुताबिक शुक्रवार को उन्‍होंने कहा, “मुझे लगता है कि राजनीति का स्‍तर गिरता जा रहा है. मुझे डर नहीं लगता. हर धर्म के अपने आतंकवादी हैं. हम ये दावा नहीं कर सकते कि हम श्रेष्‍ठ हैं. इतिहास दिखाता है कि सभी धर्मों में अतिवादी रहे हैं.

नाथूराम गोडसे पर दिए गए बयान के बाद हो रहे विरोध पर कमल हासन ने कहा, “मैं गिरफ्तारी से नहीं डरता. वो मुझे गिरफ्तार कर लें. अगर वो ऐसा करते हैं तो इससे और समस्‍याएं ही पैदा होंगी. यह चेतावनी नहीं है, सिर्फ एक सलाह है.

कार्यकर्ताओं से की शांति रखने की अपील

चुनाव प्रचार के आखिरी चरण में कमल हासन आरवकुरिचि पहुंचे थे, इसके बाद वह करूर के एक गांव में प्रचार करने गए थे. गुरुवार को हुई घटना के बाद, MNM प्रमुख ने ट्विटर पर पार्टी कैडर से अपील की कि वे अनुशासन बनाए रखें और ‘हिंसा में लिप्‍त न हों.’

BJP ने चुनाव आयोग से शिकायत कर कमल हासनपर पांच दिन का प्रतिबंध लगाने की मांग की थी. शिकायत में दावा किया गया है कि बयान सोच-विचार कर छवि धूमिल करने और ‘समुदायों के बीच सौहार्द व भाईचारा’ को बिगाड़ने की नीयत से दिया गया, जो भारतीय दंड संहिता की धारा 153 ए के तहत दंडनीय है.

ये भी पढ़ें

Video: अब ‘लाइन’ पर आईं प्रज्ञा ठाकुर, माफी मांगकर कहा-‘मैं गांधी का बहुत सम्मान करती हूं’

“बापू का हत्यारा देशभक्त? हे राम!” प्रियंका गांधी ने प्रज्ञा ठाकुर के बयान पर बीजेपी को घेरा