शाहजहांपुर में छिपे हैं कमलेश तिवारी के हत्यारे, छावनी में तब्दील हुआ शहर, हाईअलर्ट

हत्या करने के बाद दोनों हत्यारे पलिया के लिए रवावा हुए थे. यहां से उन्होंने एक गाड़ी बुक की. इस गाड़ी से हत्यारे शाहजंहापुर आए थे.

शाहजहांपुर: कमलेश तिवारी हत्याकांड में फरार आरोपियों की लोकेशल पुलिस को मिल गई है. संदिग्ध हत्यारों के शाहजहांपुर में ही छिपे होने की आशंका बताई जा रही है. पुलिस की कई टीमें रेलवे स्टेशन और रोडवेज पर कड़ी निगरानी रखे हुए हैं. एसपी और डीएम ने फ़ोर्स के साथ इलाके में फ्लैग मार्च किया. जिले में हाई अलर्ट घोषित कर दिया है.

हत्या करने के बाद दोनों हत्यारे पलिया के लिए रवावा हुए थे. यहां से उन्होंने एक गाड़ी बुक की. इस गाड़ी से हत्यारे शाहजंहापुर आए थे. हत्या के बाद ये दोनों गोरखपुर से होकर नेपाल जाना चाहते थे लेकिन टेरर फंडिंग मामले के चलते बॉर्डर पर सख्ती थी जिसकी वजह से इन दोनों ने वहां जाना उचित नहीं समझा.

इन दोनों से जो टैक्सी हायर की थी उसके मालिक को भी गिरफ्तार कर लिया गया है. उनसे भी पूछताछ हो रही है. कमलेश तिवारी हत्याकांड में नागपुर में जिस व्यक्ति से पूछताछ हो रही थी उसे महराष्ट्र के नागपुर एटीएस यूनिट ने गिरफ्तार कर लिया है. उत्तर प्रदेश पुलिस को सौंप दिया है. उत्तर प्रदेश पुलिस ट्रांजिट रिमांड लेकर लखनऊ जाएगी, आरोपी का नाम सैयद अली है.