• Home  »  देश   »   कर्नाटक में कोरोना संक्रमण का कहर, 9वीं-12वीं के छात्रों के स्कूल आने पर सरकार ने लगाई रोक

कर्नाटक में कोरोना संक्रमण का कहर, 9वीं-12वीं के छात्रों के स्कूल आने पर सरकार ने लगाई रोक

कर्नाटक सरकार ने शनिवार को कक्षा 9 वीं से लेकर 12वीं छात्रों के स्कूल (School) आने पर पाबंदी लगाई है और प्री-यूनिवर्सिटी कॉलेज में कोविड-19 (Covid-19) महामारी की वजह से शिक्षकों से मिलने पर रोक लगा दी है.

  • TV9 Hindi
  • Publish Date - 11:02 am, Sun, 20 September 20

देश में कोरोना (Corona) का कहर जारी है. सभी राज्य कोरोना के बढ़ते मामलों के चलते एहतियात बरत रहे हैं. कर्नाटक सरकार ने शनिवार को कक्षा 9 वीं से लेकर 12वीं छात्रों के स्कूल आने पर पाबंदी लगा दी है. इसी के साथ प्री-यूनिवर्सिटी कॉलेज में कोविड-19 महामारी की वजह से शिक्षकों से मिलने पर रोक लगा दी है.

सरकार के बयान के अनुसार, राज्य में कोविड-19 मामलों में कमी आने के बाद छात्रों को पहले शिक्षा विभाग द्वारा अनुमति दी गई थी. हालांकि राज्य में महामारी के मामले बढ़ते जा रहे हैं, राज्य सरकार ने महसूस किया कि छात्रों का शिक्षकों से मिलने के लिए कॉलेजों या स्कूलों में बुलाना सुरक्षित नहीं है.

21 सितंबर से कई राज्यों में खुलेंगे स्कूल

गौरतलब हो कि केंद्र सरकार द्वारा जारी अनलॉक-4 (Unlock-4) गाइडलाइन में स्कूलों को 21 सितंबर से खोलने की अनुमति दी गई है. हालांकि स्कूलों में बच्चों का आना अनिवार्य नहीं होगा. साथ ही माता- पिता की सहमति जरूरी होगी और यह छूट कंटेनमेंट जोन (Containment Zone) में लागू नहीं होगी. अभी तक मिली जानकारी के अनुसार जम्मू- कश्मीर, हरियाणा ने ही सोमवार से स्कूल फिर से खोलने का फैसला लिया है. वहीं कई राज्यों ने कोरोना के बढ़ते मामलों के चलते स्कूल खोलने के फैसले को टाल दिया है.

देश में कोरोना के मामले 53 लाख के पार

बता दें कि देश में कोरोना के कुल मरीज 53,08,015 हो गए हैं. वहीं एक्टिव मामलों की संख्या 10,13,964 है. इसके साथ ही कोरोनावायरस से 42,08,432 लोग ठीक हो चुके हैं, जबकि 85,619 लोगों की इसके चलते जान गई है. देश में कोरोना का रिकवरी रेट 78.52 फीसदी हो गया है. वहीं मृत्यु दर 1.63 फीसदी है.