कर्नाटक: कर्जदार किसान के लिए प्याज बनी सोना, महीने भर में बना करोड़पति

मल्लिकार्जुन ने बताया कि यह उनके लिए बहुत बड़ा जोखिम था. यह उनका अब तक का सबसे बड़ा दांव था, अगर इस साल फसल खराब हो जाती या कीमत गिर जाती तो वे कर्ज में डूब जाते.

देश भर में प्याज ने लोगों के आंसू निकल दिए हैं. प्याज की कीमते इतनी बढ़ी कि जल्दी से प्याज खरीदने के बारे में सोचा भी नहीं जा सकता है. जहां आम जनता इस प्याज की मार से तरस्त है, तो वहीं दूसरी ओर एक किसान ऐसा भी है जिसके लिए यही प्याज सोने से कम नहीं है. सनुकर थोड़ा अजीब जरूर लग रहा होगा मगर प्याज की बढ़ती कीमतों ने इस किसान की किस्मत ही बदल दी. सिर्फ महीने भर में यह कर्जदार किसान मालामाल हो गया.

42 वर्षिय किसान मल्लिकार्जुन, जो कर्नाटक के चित्रदुर्गा जिले के एक गांव में रहते हैं, पिछले 12 सालों से प्याज की खेती कर रहे हैं. इस बार मल्लिकार्जुन ने करीब 15 लाख का कर्ज लेकर 20 एकड़ में प्याज की खेती की. इतना बड़ा कर्ज लेकर उन्होंने प्याज की बुआई तो करदी मगर इसकी बिक्री को लेकर और इतने बढ़े कर्ज को लेकर एक डर जरूर था.

एक कहावत है कि देने वाला जब भी देता है झप्पर फाड़ कर देता है, कुछ ऐसा ही मल्लिकार्जुन के साथ भी हुआ. दरअसल इस साल फसल आने के साथ ही प्याज की कीमतें भी चौगुनी रफ्तार आसमान छूने लगीं.

मल्लिकार्जुन ने बताया कि यह उनके लिए बहुत बड़ा जोखिम था. यह उनका अब तक का सबसे बड़ा दांव था, अगर इस साल फसल खराब हो जाती या कीमत गिर जाती तो वे कर्ज में डूब जाते. लेकिन इस बार प्याज ने उन्हें और उनके परिवार की जिंदगी ही बदल दी.

20 ट्रक प्याज से 1 करोड़ की कमाई
मल्लिकार्जुन ने कहा कि उन्हें विश्वास नहीं था कि इस बार प्याज उनके लिए सोने का काम करेगी. वे सोच रहे थे कि सिर्फ पांच से दस लाख के मुनाफे की उम्मीद थी, मगर इस बार लागत से छह गुना कमाई हुई. मल्लिकार्जुन के खेत में करीब 3700 बोरी मतलब 20 ट्रक प्याज का उत्पादन हुआ. शुरू में उन्होंने 3200 रुपए प्रति क्विंटल के भाव पर प्याज बेची लेकिन जल्दी ही भाव 4000,7000 और फिर 12000 रुपए प्रति क्विंटल तक जा पहुंचा. जिससे उन्होंने अच्छा खासा मुनाफा हुआ.

ये भी पढ़ें : पहले प्‍याज ने रुलाया, अब दूध और आलू की महंगाई ने बिगाड़ा घर का बजट