कर्नाटक विधायक अयोग्यता: कांग्रेस के रवैये पर SC की नाराजगी, कहा- HC में याचिका दाखिल क्यों की?

मंगलवार को सुनवाई के दौरान SC ने भी कांग्रेस के रवैये पर नाराज़गी जताई थी. कोर्ट ने कहा था कि जब SC मामले की सुनवाई कर रहा है तो हाईकोर्ट में याचिका क्यों दाखिल की गई.

Supreme Court, sc
File Pic-Supreme Court

कर्नाटक में विधायकों की अयोग्यता मामले में कांग्रेस की कारस्तानी से सुप्रीम कोर्ट (SC) नाराज़ है. सुप्रीम कोर्ट में सुनवाई के दौरान निर्वाचन आयोग के वकील ने कहा कि आयोग के उपचुनाव टालने के फैसले को कांग्रेस ने कर्नाटक हाईकोर्ट में चुनौती दी है. चुनाव आयोग ने SC से हाईकोर्ट में सुनवाई पर रोक लगाने की मांग की. मंगलवार को सुनवाई के दौरान SC ने भी कांग्रेस के रवैये पर नाराज़गी जताई थी.

SC कर रहा मामले की सुनवाई 

कोर्ट ने कहा था कि जब SC मामले की सुनवाई कर रहा है तो हाईकोर्ट में याचिका क्यों दाखिल की गई. SC ने चुनाव आयोग को हाईकोर्ट में सुनवाई पर रोक लगाने की याचिका दाखिल करने की इजाजत दी थी. SC मुख्य मामले के साथ बुधवार को सुनवाई करेगा.

चुनाव आयोग ने किया तारीख में बदलाव

कर्नाटक के तत्कालीन विधानसभा अध्यक्ष रमेश कुमार ने बागी विधायकों को अयोग्य करार दे दिया था. इसके बाद उनकी सदस्यता समाप्त हो गई थी और विधानसभा सीटें खाली हो गई थीं. पहले इन सीटों पर 21 अक्टूबर को ही चुनाव होने थे, लेकिन बाद में चुनाव आयोग ने तारीख में बदलाव करते हुए इसे पांच दिसंबर कर दिया था.

इस्तीफा देकर बीजेपी में शामिल

कर्नाटक में सत्तारूढ़ कांग्रेस और जद-एस सरकार के 15 बागी विधायक अपना इस्तीफा देकर बीजेपी में शामिल हो गए थे. इसके बाद मुख्यमंत्री कुमारस्वामी के नेतृत्व वाली 14 महीने पुरानी गठबंधन सरकार गिर गई थी . ऐसे में उपचुनावों की घोषणा से बागी विधायकों की मुसीबत बढ़ सकती थी. क्योंकि उपचुनाव होता तो अयोग्य विधायक चुनाव नहीं लड़ पाते.

ये भी पढ़ें-

हरियाणा में इन 5 जगहों पर आज फिर होगा मतदान, नारनौल में शराबी ने तोड़ दी थी ईवीएम

केंद्रीय मंत्री हर्षवर्धन के खिलाफ दायर याचिका पर हाई कोर्ट का फैसला सुरक्षित, जानें पूरा मामला

Related Posts