ईद की नमाज के बाद कश्‍मीर घाटी में बवाल, पुलवामा में महिला की गोली मारकर हत्‍या

महिला को अस्‍पताल लाए जाने पर डॉक्‍टरों ने मृत घोषित कर दिया.
कश्‍मीर में, ईद की नमाज के बाद कश्‍मीर घाटी में बवाल, पुलवामा में महिला की गोली मारकर हत्‍या

श्रीनगर: ईद के दिन भी कश्‍मीर में खून-खराबा हुआ है. पुलवामा के काकापोरा इलाके में अज्ञात बंदूकधारियों ने एक महिला की गोली मारकर हत्‍या कर दी. एक युवक को भी चोटें आई हैं. युवक की हालत गंभीर बताई जा रही है.

एक पुलिस अधिकारी ने कहा कि कुछ अज्ञात बंदूकधारियों ने नगीना जान के घर में घुसकर उनपर गोलियां बरसा दीं. नगीना की मौके पर ही मौत हो गई, जबकि जलालुद्दीन भूफांदा को भी गोलिया लगीं. घायल को नजदीकी अस्‍पताल ले जाया गया जहां से उसे श्रीनगर रेफर कर दिया गया है.

नगीना के पति मोहम्‍मद युसूफ लोन की भी अज्ञात बंदूकधारियों ने 19 मई, 2017 को गोली मारकर हत्‍या कर दी थी. पुलिस के अनुसार, हमलावरों को पकड़ने के लिए आर्मी और एसओजी की एक संयुक्‍त टीम लॉन्‍च कर दी गई है.

ईद की नमाज के बाद पत्‍थरबाजी

ईद की नमाज के बाद श्रीनगर, अनंतनाग और शोपियां में सुरक्षा बलों और पत्‍थरबाज युवाओं के बीच झड़प की सूचना है. पत्‍थरबाजों ने ISIS और पाकिस्‍तान के झंडे लहराए और हाल ही में मारे गए आतंकी जाकिर मूसा के समर्थन में नारेबाजी की.

श्रीनगर के नौहट्टा क्षेत्र में ऐतिहासिक जामिया मस्जिद में ईद की नमाज के बाद वरिष्ठ अलगाववादी नेता मीरवाइज उमर फारूक ने कहा कि कश्मीर मुद्दा सुलझाने के लिए भारत और पाकिस्तान को आमने-सामने बैठकर बात करने की जरूरत है.

मीरवाइज उमर ने कहा, “हमारे लोगों ने बड़े बलिदान दिए हैं और जब तक भारत और पाकिस्तान सार्थक वार्ता नहीं करते, यह समस्या जारी रहेगी.” प्रदर्शनकारियों को पुलिस ने रोका जिसके बाद झड़प शुरू हो गई और इसमें कथित रूप से कई युवकों के घायल होने की खबर है.

शोपियां जिले में सोमवार (3 जून) को सुरक्षाबलों और आतंकवादियों के बीच हुई मुठभेड़ में एक आतंकवादी और एक ओवरग्राउंड वर्कर (मददगार) मारे गए थे. पुलिस ने कहा, “राष्ट्रीय राइफल्स के एक गश्ती दल पर आज शोपियां जिले के चित्रग्राम गांव में एक वाहन से जा रहे आतंकवादियों ने गोलियां चला दी. जवाबी फायरिंग के बाद मुठभेड़ शुरू हो गई जिसमें एक आतंकवादी और एक ओजीडब्ल्यू (ओवरग्राउंड वर्कर) मारे गए.”

पुलिस सूत्रों ने कहा, “मारे गए आतंकवादी की पहचान फिरदौस अहमद भट और ओजीडब्ल्यू के रूप में सजाद अहमद डार के रूप में की गई है, दोनों कुलगाम जिले के हैं.”

Related Posts