शोपियां में कैब ड्राइवर ने पेश की कश्मीरियत की मिसाल, लौटाए पर्यटक के 10 लाख रुपये

शोपियां जिले के रहने वाला टैक्सी चालक तारिक अहमद भोपाल के पर्यटक परिवार को चार दिन पहले प्रसिद्ध अहरबाल झरने पर लाया था. यात्रा से लौटने के बाद वह परिवार अपना बैग गाड़ी में ही भूल गया.

श्रीनगर: पिछले कई दिनों से जम्मू कश्मीर के शोपियां जिले से आतंक और दहशत की ही खबरें आ रही थीं. इस बीच एक खबर ऐसी आई है जिसमें शोपियां के एक कैब ड्राइवर ने नेकी और असल कश्मीरियत का उदाहरण पेश किया है. दरअसल कश्मीरी टैक्सी ड्राइवर तारिक अहमद ने एक सैलानी परिवार के खोए हुए बैग को वापस लौटा दिया.

सूत्रों ने मंगलवार को बताया कि बैग में लगभग 10 लाख रुपये का सामान था. शोपियां जिले के रहने वाला टैक्सी चालक तारिक अहमद भोपाल के इस परिवार को चार दिन पहले प्रसिद्ध अहरबाल झरने पर लाया था. यात्रा से लौटने के बाद वह परिवार अपना बैग गाड़ी में ही भूल गया. जिसके बाद ईमानदारी की मिसाल पेश करते हुए तारिक ने बैग रखने की जगह उसे लौटाने का फैसला किया.

पर्यटन विभाग के सूत्रों ने बताया, “तारिक ने बैग के मालिक का पता लगाने के लिए बहुत मेहनत की. बैग में नकदी, सोना और स्मार्टफोन मिलाकर लगभग 10 लाख रुपये का सामान था.” काफी मेहनत के बाद आखिरकार तारिक ने उस परिवार को ढूंढ निकाला और उनकी अमानत उन्हें सौंप दी. उन्होंने कहा कि अहमद की नेकी और ईमानदारी पर बैग पाने वाले परिवार ने उनका आभार जताया.

ये भी पढ़ें: सुधा ने विदेशी लड़के से की बेटी की शादी तय, संस्कृति के तथाकथित ठेकेदारों ने किया बहिष्कार