केरल: ISIS का आतंकी मोइदीन भारत और इराक के खिलाफ युद्ध छेड़ने का दोषी करार

मोइदीन ने हिरासत में पूछताछ के दौरान बताया कि उसने सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म, जैसे- फेसबुक और टेलीग्राम के जरिए ISIS के साजिशकर्ताओं से संपर्क किया, ताकि वो भारत और इराक के खिलाफ युद्ध छेड़ सके.

ISIS (प्रतीकात्मक तस्वीर)
ISIS (प्रतीकात्मक तस्वीर)

इराक में आतंकी संगठन ISIS में ट्रेनिंग लेने वाले एक भारतीय नागरिक को कोच्चि की अदालत में शुक्रवार को भारत सरकार और इराक के खिलाफ युद्ध की साजिश रचने का दोषी पाया गया है. सुब्हानी हाजा मोइदीन केरल का रहने वाला है और साल 2015 में उसने इराक में ISIS के साथ ट्रेंनिंग ली थी. साल 2016 में NIA ने तमिलनाडु में केंद्रीय सुरक्षा एजेंसियों और राज्य की पुलिस के साथ मिलकर उसे गिरफ्तार कर लिया था. इसी के साथ ISIS के आतंकियों की भारत में ज्यादा भीड़भाड़ वाले इलाकों और कई नामचीन शख्सियतों को निशाना बनाने की साजिश का भंडाफोड़ किया गया था.

इन धाराओं के तहत पाया गया दोषी

अब NIA की कोर्ट में मोइदीन को दोषी करार दिया गया है. मोइदीन को कितनी और क्या सजा मिलेगी, इसका ऐलान सोमवार को NIA की विशेष अदालत करेगी. कोर्ट ने मोइदीन को IPC की धारा 120 (B) (आपराधिक षड्यंत्र), धारा 125 (भारत सरकार के साथ गठबंधन में शामिल एशियाई शक्तियों के खिलाफ युद्ध छेड़ना) और UAPA के तहत दोषी करार दिया है.

यूएन में भारत का खुलासा, कोरोनाकाल में आतंकियों के निशाने पर स्वास्थ्यकर्मी

कोर्ट ने मोइदीन को धारा 38 (आतंकवादी संगठन की सदस्यता से संबंधित अपराध) और 39 (आतंकवादी संगठन को दी गई मदद से संबंधित अपराध) के तहत भी दोषी ठहराया है. NIA ने जो चार्जशीट दाखिल की थी, उसके मुताबिक मोइदीन इडुक्कि जिले से ताल्लुक रखता है और वो 2015 में ISIS में शामिल हो गया था.

फेसबुक-टेलीग्राम के जरिए ISIS से जुड़ा

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक ISIS की गतिविधियों को आगे बढ़ाने के लिए वो अप्रैल-सितंबर 2015 के दौरान इराक गया था. आतंकवादी संगठन में शामिल होने के बाद उसने इराक सरकार के खिलाफ युद्ध छेड़ दिया, जो कि एशिया में भारत सरकार का मित्र देश है. हिरासत में पूछताछ के दौरान उसने बताया कि उसने भारत और उसके बाहर ISIS के लोगों के साथ संपर्क किया.

मोइदीन ने हिरासत में पूछताछ के दौरान बताया कि उसने सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म, जैसे- फेसबुक और टेलीग्राम के जरिए ISIS के साजिशकर्ताओं से संपर्क किया, ताकि वो भारत और इराक के खिलाफ युद्ध छेड़ सके.

जम्मू-कश्मीर: सुरक्षाबलों ने मुठभेड़ में मार गिराए 2 आतंकी, तलाशी अभियान जारी

Related Posts