केरल: दो महीने तक होगा सबरीमला उत्सव, सीएम विजयन बोले- कम श्रद्धालुओं को इजाजत

मुख्यमंत्री पिनरई विजयन (Pinarayi Vijayan) ने कहा, ‘श्रद्धालुओं को अपने संबंधित राज्यों से कोविड निगेटिव (Covid-19) सर्टिफिकेट लाने की जरूरत होगी. उनके आने पर एक बार फिर सेस्वास्थ्य अधिकारियों द्वारा परीक्षण किया जाएगा.’

  • TV9 Hindi
  • Publish Date - 9:15 am, Tue, 29 September 20
sabrimala temple

केरल के मुख्यमंत्री पिनरई विजयन (Pinarayi Vijayan) ने सबरीमला मंदिर (Sabarimala Temple) को फिर से खोलने का आदेश दिया है. राज्य में दो महीने चलने वाला सालाना सबरीमला उत्सव का आयोजन इस बार भी होगा, लेकिन कोविड के प्रकोप को देखते हुए लागू प्रतिबंधों के कारण कम संख्या में श्रद्धालुओं को जुटने की अनुमति होगी. सबरीमला मंदिर परिसर में सालाना उत्सव 15 नवंबर से शुरू होगा. अत्यंत महत्वपूर्ण मकरविलाकु दिवस का आयोजन 14 जनवरी, 2021 को होगा.

मुख्यमंत्री ने कहा कि श्रद्धालुओं को अपने संबंधित राज्यों से कोविड निगेटिव (Covid-19) सर्टिफिकेट लाने की जरूरत होगी और जब वह एक बार आते हैं तो स्वास्थ्य अधिकारियों द्वारा उनका फिर से परीक्षण किया जाएगा.

ये भी पढ़ें- महज़ 20 रुपए में पराली जलाने की समस्या से मिलेगी निजात! प्रदूषण से छुटकारा

केरल के मुख्य सचिव के नेतृत्व में एक विशेषज्ञ समिति को विवरण पर निर्णय लेने का काम सौंपा गया है. केरल के अधिकारी अन्य राज्यों के लोगों के साथ मिलकर काम करेंगे. विजयन के कहा कि मंत्री स्तर पर भी चर्चाएं होंगी. उन्होंने 65 साल से अधिक उम्र के बुजुर्ग और बच्चों को सबरीमला आने से परहेज करने की सलाह दी है.
सबरीमला में किसी को रात में रूकने की अनुमति नहीं होगी

केरल के पठानमथिट्टा जिले के सबरीमला मंदिर में केरल समेत आंध्र प्रदेश, तेलंगाना, तमिलनाडु, कर्नाटक से लाखों श्रद्धालु दर्शन करने आते हैं. विजयन ने चेतावनी देते हुए कहा कि किसी को भी सबरीमाला में आराम करने और रात में रुकने की अनुमति नहीं दी जाएगी.

(आईएनएस इनपुट के साथ)