‘जब मैंने अपने बेटे को देखा तो वो मिर्च पाउडर से नहाए था, उसके गले में ब्रा बंधी थी’

लड़के की मां ने बताया, "लड़के ने उनको बताया था कि वह अपने पड़ोसी के घर में फल लेने के लिए जा रहा है. उसके लगभग 30 मिनट के बाद, मैंने अपने लड़के को दर्द से कराहते हुए सुना तब मैं भागकर पड़ोसी के घर गई.

तिरुवंतपुरम: केरल के कासरगोड जिले में कक्षा 11 में पढ़ने वाले लड़के को केवल शक के चलते बर्बरता पूर्वक मारा गया. लड़के पर आरोप था कि उसने महिलाओं के अंडरवियर चुराए हैं. लड़के का आरोप है कि बस इसी वजह से एक पड़ोसी ने उसको बांध दिया और चेहरे पर मिर्ची पाउडर लगाया. लड़के ने इस आरोप का खंडन करते हुए बताया कि वो अपने पड़ोसी के घर कृष्णा फल लेने गया था.

एक पुलिस अधिकारी ने बताया, “यह घटना बेलूर गांव के अटेंगनम के पास सोमवार शाम 5.30 बजे हुई. “अपने पड़ोसी के अंडरवियर चोरी करने के आरोप पर लड़के पर हमला किया गया था, लेकिन लड़के ने कहा कि वह कृष्णा फल लेने के लिए उनके घर गया था. हमें मामले की जांच करनी होगी. पड़ोसी ने पुलिस को बताया कि उनके पास कपड़े चुराने का वीडियो है. लड़का अब कोडंगल के वेलारिककुंडु तालुक अस्पताल में भर्ती है. डॉक्टरों ने उन्हें कान्हांगड़ के एक ईएनटी विशेषज्ञ के पास भेज दिया.

लड़के की मां ने बताया, “लड़के ने उनको बताया था कि वह अपने पड़ोसी के घर में फल लेने के लिए जा रहा है. उसके लगभग 30 मिनट के बाद, मैंने अपने लड़के को दर्द से कराहते हुए सुना तब मैं भागकर पड़ोसी के घर गई. पड़ोसी का घर हमारे घर के ऊपर ही है.”

मां ने कहा, “जब मैं वहां पहुंची तो मैंने देखा कि मेरे लड़का पूरी तरह से मिर्च पाउडर से नहाया हुआ था और उसकी गर्दन के चारो ओर ब्रा बंधी थी. पड़ोसी उसे जान से मारना चाहता था. उसने लड़के को बचाया और उसे घर वापस लाईं. पड़ोसी ने पुलिस को बताया कि लड़का था दिसंबर से इनर वियर चुरा रहा है और उनके पास इसका वीडियो है. लड़के की मां दिहाड़ी मजदूर है. मां ने उससे वीडियो दिखाने की बात कही. उसने वीडियो में कुछ भी नहीं दिखा. वीडियो में साफ दिख रहा था कि लड़का कृष्णा फल के बगीचे में था. उसने फल भी नहीं लिया था और जब वह पकड़ा गया था और तब वह लौट रहा था.