केरल टूरिज्‍म ने ट्विटर पर बताया कैसे बनाएं बीफ की क्‍लासिक डिश, हो गया बवाल

केरल टूरिज्‍म के आधिकारिक हैंडल से हुए ट्वीट के बाद कई यूजर्स ने बीफ पर आपत्ति जताई तो किसी ने डिश के टेस्‍ट को सराहा.

केरल टूरिज्‍म ने आधिकारिक ट्विटर हैंडल से बुधवार को बीफ से बनने वाले पकवान की रेसिपी साझा की. बीफ उलर्थियथु नाम की यह डिश सेंट्रल त्रावणकोर इलाके में खासी मशहूर है. केरल टूरिज्‍म ने ट्विटर पर लिखा, “बीफ के मुलायम टुकड़े, धीमी आंच पर पकाए गए सुगंधित मसाले, नारियल के टुकड़े और कढ़ी पत्तियां. मसालों की धरती केरल से सबसे क्‍लासिक डिश, बीफ उलर्थियथु की एक रेसिपी.”

Kerala Tourism shared Beef recipe on Twitter, केरल टूरिज्‍म ने ट्विटर पर बताया कैसे बनाएं बीफ की क्‍लासिक डिश, हो गया बवाल

इस ट्वीट पर यूजर्स के मिक्‍स्‍ड रिएक्‍शंस आए. कई यूजर्स ने बीफ पर आपत्ति जताई तो किसी ने डिश के टेस्‍ट को सराहा. एक यूजर ने लिखा कि ‘बीफ केरल की संस्‍कृति नहीं हैं.’ दीप्ति नाम वाले हैंडल से लिखा गया, “भगवान की अपनी धरती पर बीफ बैन होना चाहिए. यहां बीफ का विज्ञापन देखना घिनौना है.”

Kerala Tourism shared Beef recipe on Twitter, केरल टूरिज्‍म ने ट्विटर पर बताया कैसे बनाएं बीफ की क्‍लासिक डिश, हो गया बवाल

Kerala Tourism shared Beef recipe on Twitter, केरल टूरिज्‍म ने ट्विटर पर बताया कैसे बनाएं बीफ की क्‍लासिक डिश, हो गया बवाल

अभिषेक शर्मा ने कहा, ‘बीफ क्‍लाइमेट चेंज की सबसे बड़ी वजह है, इसे प्रमोट करना बंद करो.’ डॉ. विरेंद्र जिलोवा के अकाउंट से जवाब आया, “केंद्र में बीजेपी सरकार होने के बावजूद बीफ खाया जा रहा है, देखकर हैरान हूं.”

Kerala Tourism shared Beef recipe on Twitter, केरल टूरिज्‍म ने ट्विटर पर बताया कैसे बनाएं बीफ की क्‍लासिक डिश, हो गया बवाल

Kerala Tourism shared Beef recipe on Twitter, केरल टूरिज्‍म ने ट्विटर पर बताया कैसे बनाएं बीफ की क्‍लासिक डिश, हो गया बवाल

बहुत से यूजर्स ने बीफ से बनी और डिश की तस्‍वीरें भी साझा कीं. सरवनन बालाकृष्‍णन ने लिखा, “यह केरल की मेरी सबसे पसंदीदा यादों में से है.’

Kerala Tourism shared Beef recipe on Twitter, केरल टूरिज्‍म ने ट्विटर पर बताया कैसे बनाएं बीफ की क्‍लासिक डिश, हो गया बवाल

देश के 18 राज्यों में गो हत्‍या पर रोक है. हालांकि केरल, पश्चिम बंगाल, अरुणाचल प्रदेश, असम, त्रिपुरा, नागालैंड, मेघालय, मिजोरम में ऐसा कोई प्रतिबंध नहीं है.

ये भी पढ़ें

लव जिहाद में फंसकर सेक्‍स स्‍लेव बन रही हैं लड़कियां, केरल के चर्च का बयान

व्यंग्य: मिशनरी स्कूलों में पढ़े बच्चे खाने लगते हैं बीफ, सरकारी स्कूलों में आएं और खिचड़ी में मरा चूहा पाएं