बंगाल में जिन BJP कार्यकर्ताओं की हत्‍या हुई, नरेंद्र मोदी के शपथग्रहण में शामिल होंगे उनके परिवार

यात्रा और दिल्‍ली प्रवास के दौरान कार्यकर्ताओं के परिवार का ध्‍यान रखने की जिम्‍मेदारी वरिष्‍ठ नेताओं को दी गई है.

नई दिल्‍ली: नरेंद्र मोदी 30 मई को राष्‍ट्रपति भवन में दोबारा प्रधानमंत्री पद की शपथ लेंगे. भारतीय जनता पार्टी (BJP) ने इस कार्यक्रम के लिए पश्चिम बंगाल में मारे गए 50 से ज्‍यादा कार्यकर्ताओं के परिवारवालों को निमंत्रण दिया है. इस समारोह में राज्‍य की मुख्‍यमंत्री ममता बनर्जी भी हिस्‍सा लेंगी. राष्‍ट्रपति भवन के जयपुर गेट पर होने वाले भव्‍य कार्यक्रम के लिए कुल 7,000 मेहमानों को आमंत्रण दिया गया है.

BJP के इस कदम को राज्‍य में दो साल बाद होने वाले विधानसभा चुनाव से पहले पार्टी कैडर के लिए अहम संदेश के रूप में देखा जा रहा है. टाइम्‍स ऑफ इंडिया ने सूत्रों के हवाले से कहा कि सभी को ट्रेन से दिल्‍ली लाया जाएगा. यात्रा और दिल्‍ली प्रवास के दौरान उनका ध्‍यान रखने की जिम्‍मेदारी वरिष्‍ठ पार्टी नेताओं को दी गई है.

पंचायत चुनावों में खूब बहा था खून

पिछले छह साल में हिंसा का शिकार हुए कम से कम 51 कार्यकर्ताओं के परिवारों को न्‍योता भेजा गया है. इनमें से 46 कार्यकर्ता पंचायत चुनावों के दौरान हुई हिंसा की घटनाओं में मारे गए थे और पांच की हाल ही में संपन्‍न हुए लोकसभा चुनाव के दौरान जान गई.

अधिकतर परिवार बैरकपुर, कृष्‍णानगर, दक्षिणी 24 परगना, बर्दवान, मालदा, पुरुलिया, बांकुरा, झारग्राम, पश्चिमी मिदनापुर, राणाघाट, कूच बिहार और बीरभूम जैसे इलाकों से आते हैं. इनमें से कई कार्यकर्ताओं के परिवार कुछ दिन पहले बीजेपी मुख्‍यालय आकर लगातार भय में जीने की बात कह चुके हैं.

लोकसभा चुनाव 2019 में बीजेपी ने शानदार प्रदर्शन किया है. पश्चिम बंगाल की 42 लोकसभा सीट के लिए कांटे की टक्कर हुई जिसमें तृणमूल कांग्रेस को 22 और भाजपा को 18 पर जीत मिली. 2014 के आम चुनाव में तृणमूल को 34 और भाजपा को सिर्फ दो सीट मिली थीं.

ये भी पढ़ें

भाजपा ने तोड़ा ममता का घर, 3 विधायक सहित 53 पार्षद रंगे भगवा रंग में, देखें VIDEO

मोदी के ‘चुपचाप कमलछाप’ ने कैसे गिराया बंगाल में टीएमसी का ग्राफ?