भारत का हुआ राफेल, पढ़ें पूजन से लेकर उड़ान भरने तक की पूरी रिपोर्ट

रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने 30 मिनट तक राफेल विमान में उड़ान भरने से पहले उसका पूजन किया था.

केंद्रीय रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह पहला राफेल विमान लेने मंगलवार को फ्रांस के मेरिनिएक पहुंचे. मेरिनिएक में पहले राफेल विमान के कागजात लेने के बाद रक्षा मंत्री ने उसमें उड़ान भी भरी. इससे पहले रक्षा मंत्री ने राफेल का पूजन भी किया. जाने राफेल के पहली छवी से लेकर उसमें उड़ान भरने तक की अहम बातें.

  • फ्रांस दौरे पर गए रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह आज फ्रेंच विमान में सवार होकर भारत को मिलने वाले पहले राफेल विमान को लेने मेरिनिएक स्थित दासों एविएशन गए.
  • मेरिनिएक पहुंच कर रक्षा मंत्री ने भारत को मिलने वाले राफेल विमान का निरिक्षण किया.
  • राफेल विमान की पहली तस्वीर लोगों के सामने आने के बाद इस बेहतरीन लड़ाकू विमान से जुड़ी एक फिल्म रक्षा मंत्री ने देखी.
  • इस मौके पर भारत के रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने संबोधन किया, जिसमें उन्होंने कहा “आज का दिन दोनों देशो के ऐतिहासिक है.
    भारत और फ्रांस के रिश्ते बहुत मजबूत हैं. आज भारत में दशहरे का दिन है, जिसे विजयदशमी भी कहते हैं. आज भारत में वायु सेना दिवस भी है.
    आज के दिन बुराई पर अच्छाई का दिन है.”
  • रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने कहा, “राफेल एक फ्रेंच शब्द है जिसका हिंदी अर्थ है आंधी. राफेल अपने नाम के अनुसार कार्य करेगा.”
  • संबोधन के बाद रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह को IAF राफेल हैंडओवर सर्टिफिकेट दिया गया.
  • हैंडओवर सर्टिफिकेट लेने के बाद रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने शस्त्र पूजा की. जिसमें उन्होंने राफेल पर ओम लिखा और कलावा बांधा. साथ ही उन्होंने नारियल और फूल भी राफेल पर चढ़ाए.
  • राफेल के पूजन के बाद रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने 30 मिनट तक राफेल विमान में उड़ान भरी.

ये भी पढ़ें: अच्छाई की बुराई पर जीत, पीएम मोदी ने किया रावण दहन