पाकिस्तान ने भारत के लिए खोला एयरस्पेस, 2-3 घंटे समय की बचत के अलावा होंगे ये फायदे

एयरस्पेस बंद होने से रोजाना करीब 233 विमानों के करीब 70 हजार यात्री परेशान हो रहे थे. इन्हें गंतव्य तक पहुंचने में...
Pakistan, पाकिस्तान ने भारत के लिए खोला एयरस्पेस, 2-3 घंटे समय की बचत के अलावा होंगे ये फायदे

नई दिल्ली: पाकिस्तान ने मंगलवार को अपने एयरस्पेस में बाहरी विमानों के प्रवेश पर लगाई गई पाबंदी को हटा दिया. भारत के साथ फरवरी माह में बढ़ी तनातनी के पांच महीने बाद नागरिक उड़ानों के लिए देश के हवाई क्षेत्र को फिर से खोलने की घोषणा की गई है. मालूम हो कि पाकिस्तान ने 27 फरवरी को अपने एयरस्पेस को बंद कर दिया था.

एयरस्पेस बंद होने से भारत से यूरोप और दूसरे पश्चिमी यात्राओं की ओर सेवाएं प्रदान करने वाली विमानन कम्पनियों को भारी नुकसान उठाना पड़ रहा था. इसमें एअर इंडिया को सबसे अधिक नुकसान हो रहा था क्योंकि वाणिज्यिक विमान सेवाएं मुम्बई एअर स्पेस का उपयोग करते हुए यूरोप की ओर जा रही थीं.

भारत को 430 करोड़ रुपये का नुकसान
उड्डयन मंत्री हरदीप पुरी ने संसद में बताया है कि पाकिस्तान के एयरस्पेस बंद हो जाने से भारत को लगभग 430 करोड़ रुपये का नुकसान हुआ है. केंद्रीय मंत्री ने अपने लिखित जवाब में बताया कि लगभग 13 लाख रुपये प्रतिदिन के हिसाब से नुकसान हुआ है और फ्लाइंग टाइम भी 15 मिनट तक बढ़ गया था. उन्होंने कहा लेकिन इसका बोझ ग्राहकों पर नहीं डाला गया है और न किराया बढ़ा.

इंटरनेशनल सिविल एविएशन ऑर्गेनाइजेशन के डाटा के अनुसार, एयरस्पेस बंद होने से रोजाना करीब 233 विमानों के करीब 70 हजार यात्री परेशान हो रहे थे. इन्हें गंतव्य तक पहुंचने में डेढ़ से दो घंटे ज्यादा समय लग रहा था. एयर इंडिया के मुताबिक, एयरस्पेस खोले जाने से यूएस जाने वाली फ्लाइटों के खर्च में 20 रु. प्रति ली. की कमी आएगी.

पाकिस्तान को 688 करोड़ रुपये का नुकसान
वहीं, पाकिस्तान की एक दिन में 400 उड़ाने प्रभावित हुई थीं और उसे लगभग 688 करोड़ रुपये का नुकसान हुआ है. एयरस्पेस बंद होने से पाकिस्तान के लिए ईंधन, ऑपरेशन की लागत, रखरखाव और क्रू मेंबर के काम घंटों में बढ़ोत्तरी कर दी गई थी. ऐसे में आर्थिक तंगी से जूझ रहे पाकिस्तान के लिए इतना बड़ा नुकसान झेलना वश की बात नहीं थी.

गौरतलब है कि जम्मू एवं कश्मीर के पुलवामा जिले में हुए आत्मघाती हमले में 42 सीआरपीएफ जवानों की मौत हो गई थी. यह हमला पाकिस्तान स्थित जैश-ए-मोहम्मद के आतंकी समूह ने किया था. इसके बाद भारतीय वायु सेना ने 26 फरवरी को बालाकोट हमला कर आतंकियों व पाकिस्तान को सबक सिखाया था. इस हमले के बाद से दोनों देशों में तनाव काफी बढ़ गया और पाकिस्तान ने अपने हवाई क्षेत्र को भारत से संचालित होने वाले विमानों के लिए बंद कर दिया.

ये भी पढ़ें-

शिवसेना नेता ने संसद में सुनाया आयुर्वेदिक मुर्गी और अंडे का किस्सा, कहा- शाकाहारी है ये

LIVE: मुंबई के डोंगरी में ढही इमारत, 12 लोगों की मौत, 15 परिवारों को बचाने की जद्दोजहद में NDRF

राज्यसभा में NIA बिल आज किया जाएगा पेश, BJP ने सांसदों के लिए जारी किया व्हिप

Related Posts