जानिए कौन हैं स्नेहा मोहनदास, जिसने ट्विटर पर बता दिया PM मोदी का पासवर्ड

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Narendra Modi) ने एक दिन के लिए अपना ट्विटर (Twitter) हैंडल सात महिलाओं को संभालने के लिए दिया. इस दौरान एक यूजर ने प्रधानमंत्री (Prime Minister) के ट्विटर हैंडल का पासवर्ड ही मांग लिया.

महिला दिवस (International Women’s Day) के मौके पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) ने एक दिन के लिए अपना ट्विटर (Twitter) हैंडल सात ऐसी महिलाओं को संभालने के लिए दिया, जिन्होंने अपने-अपने क्षेत्र में प्रेरणादायक काम किए हैं. इस दौरान एक मौका ऐसा आया जब एक यूजर ने ट्वीट कर प्रधानमंत्री (Prime Minister) के ट्विटर हैंडल का पासवर्ड ही मांग लिया. यह काफी चौंकाने वाला था लेकिन उससे भी ज्यादा चौंकाने वाला था उस यूजर के ट्वीट पर PM के ट्विटर हैंडल से आया जवाब.

दरअसल हुआ यूं कि पीएम की इस पहल पर सब तारीफ कर रहे थे, इस कारण आज पूरा दिन ट्विटर पर #SheInspiresUs भी ट्रेंड करता रहा. इस बीच ध्रुव सिंह (Dhruv Singh) नाम के ट्विटर यूजर ने ट्वीट किया, “प्लीज पासवर्ड बता दीजिए.” उस समय पीएम मोदी (PM Modi) का ट्विटर हैंडल स्नेहा मोहनदास (Sneha Mohandoss) ऑपरेट कर रही थीं, स्नेहा मोहनदास कौन हैं वो हम आपको इस वाकया के बाद बताएंगे. पासवर्ड मांगने वाले उस शख्स को शायद ऐसे रिप्लाई की उम्मीद नहीं होगी.

स्नेहा मोहनदास (Sneha Mohandoss) ने इस पर रिप्लाई किया, “नया भारत…लॉग-इन की कोशिश करो” पीएम के अकाउंट से आए इस रिप्लाई ने सबका दिल जीत लिया. कई यूजर्स ने इस पर उनकी तारीफ भी की.

कौन हैं स्नेहा मोहनदास?

स्नेहा मोहनदास (Sneha Mohandoss) ‘फूड बैंक इंडिया’ (Food Bank India) की संस्थापक हैं. यह संस्था बेघर और भूखे लोगों को मुफ्त में खाना खिलाती है. इस संस्था की शुरुआत स्नेहा ने 2015 मैं चेन्नई (Chennai) में आई बाढ़ के बाद की थी. उन्होंने बताया की इस संस्था का मुख्य उद्देश्य भूख से लड़ना और भारत से भुखमरी को खत्म करना है.

स्नेहा ने बताया कि यह संस्था शुरू करने का ख्याल उन्हें अपनी मां से आया जो उनके दादाजी के बर्थडे और दूसरे घरेलु आयोजनों में अनाथ बच्चों को घर बुला कर खाना खिलाया करती थीं. इससे प्रेरणा लेकर उन्हें एक ऐसी संस्था बनाने का ख्याल आया जो कि इंसान की सबसे बुनियादी जरूरतों में से एक भूख को मिटाने का काम करे.

इस संस्था के शुरुआती दौर में उन्होंने एक फेसबुक ग्रुप (Facebook Group) के जरिए लोगों को जोड़ना शुरू किया जिसका नाम उन्होंने “फूड इंडिया चेन्नई” (Food India Chennai) रखा और फेसबुक पोस्ट (Facebook Post) के जरिए धीरे-धीरे लोगों को अपने कार्यक्रम के बारे में बताना शुरू किया. लोग एक-एक करके इस संस्था से जुड़ने लगे और आज इस ग्रुप के 24 हजार से ज्यादा मेंबर हैं. अभी तक इस संस्था के वालेंटियर्स ने देशभर में 18 से ज्यादा प्रोग्राम का आयोजन किया है. जिनमें से एक साउथ अफ्रीका में आयोजित किया गया था.

Related Posts