जामिया हिंसा: कुमार विश्वास ने AAP पर साधा निशाना, बोले- फिर एक बार ‘अमानती गुंडे’ का हुआ इस्तेमाल?

दूसरी तरफ, दिल्ली के उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने ट्वीट करके कहा कि 'चुनाव में हार के डर से बीजेपी दिल्ली में आग लगवा रही है.'

आम आदमी पार्टी के पूर्व नेता और कवि कुमार विश्वास ने जामिया हिंसा को लेकर मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल और विधायक अमानतुल्लाह खान पर निशाना साधा है. उन्होंने ट्वीट करके कहा है कि कुर्सी व सत्ता के लिए देश-सेना-जनता-सिद्धांत-बच्चे-दोस्त-मां-बाप कुछ भी दांव पर लगाया जा रहा है. हालांकि, साधे तौर पर उन्होंने किसी का नाम नहीं लिया है.

कुमार विश्वास ने ट्वीट किया, “आदतन कमीनेपन को लागू करने के लिए फिर एक बार अपने उसी ‘अमानती गुंडे’ का इस्तेमाल? नस-नस से वाकिफ हूं बौने, पता है कि अपनी टुच्ची सी कुर्सी व सत्ता के लिए देश-सेना-जनता-सिद्धांत-बच्चे-दोस्त-मां-बाप कुछ भी दांव पर लगा सकता है! दिल्ली को आग में झोंकने वाले वक्त तेरा हिसाब करेगा.”
Kumar Vishwas Tweets, जामिया हिंसा: कुमार विश्वास ने AAP पर साधा निशाना, बोले- फिर एक बार ‘अमानती गुंडे’ का हुआ इस्तेमाल?
दूसरी तरफ, दिल्ली के उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने ट्वीट करके कहा कि ‘चुनाव में हार के डर से बीजेपी दिल्ली में आग लगवा रही है. AAP किसी भी तरह की हिंसा के खिलाफ है. ये बीजेपी की घटिया राजनीति है. इस वीडियो में खुद देखें कि किस तरह पुलिस के संरक्षण में आग लगाई जा रही है.’

उन्होंने ट्वीट किया, “इस बात की तुरंत निष्पक्ष जांच होनी चाहिए कि बसों में आग लगने से पहले ये वर्दी वाले लोग बसों में पीले और सफेद रंग वाली केन से क्या डाल रहे है? और ये किसके इशारे पर किया गया? फोटो में साफ दिख रहा है कि बीजेपी ने घटिया राजनीति करते हुए पुलिस से ये आग लगवाई है.”


बता दें कि नागरिकता कानून को लेकर रविवार को प्रदर्शन के हिंसक हो जाने पर राष्ट्रीय राजधानी के निवासियों व राहगीरों को अपनी जान बचाने के लिए भागना पड़ा. करीब 1,000 लोगों की भीड़ ने सीएए को लेकर प्रदर्शन किया.

नाराज भीड़ ने करीब पांच बसों को आग लगा दिया या क्षतिग्रस्त किया और इसके अलावा विभिन्न कारों व एक बाइक को निशाना बनाया. पथराव में दो अग्निशमन अधिकारी घायल हो गए. नए नागरिकता अधिनियम को लेकर दक्षिण दिल्ली में करीब एक घंटे तक प्रदर्शन चला. आगजनी व पथराव करने वाली उन्मत्त भीड़ ने निवासियों को धमकियां दीं.

सुशील कुमार की सी.वी.रमन मार्ग पर दुकान है, उन्होंने आईएएनएस से कहा कि करीब हजार प्रदर्शनकारियों ने डीटीसी बस पर पथराव किया, जो उनकी दुकान के बाहर खड़ी थी, पूरी तरह से क्षतिग्रस्त हो गई.

राष्ट्रीय राजधानी में नागरिकता संशोधन अधिनियम, 2019 को लेकर यह विरोध प्रदर्शन का तीसरा दिन है. यह अधिनियम पाकिस्तान बांग्लादेश व अफगानिस्तान में सताए गए हिंदू, ईसाई, सिख, पारसी, जैन व बौद्ध लोगों को भारतीय नागरिकता प्रदान करेगा.

ये भी पढ़ें-

CAA Protests LIVE: जामिया के वीसी ने कहा- लाइब्रेरी से सुरक्षित निकाले गए छात्र, पुलिस की कार्रवाई निंदनीय

जामिया प्रॉक्टर ने कहा परिसर में जबरदस्ती घुसी पुलिस, छात्रों को पीटने का लगाया आरोप

नागरिकता कानून: जामिया इलाके में हिंसक प्रदर्शन, 4 बसों में लगाई आग, कई घायल