Domestic Flights के शुरू होने में 24 घंटे से भी कम वक्त, केंद्र के फैसले पर कई राज्यों को एतराज

महाराष्ट्र, तमिलनाडु और पश्चिम बंगाल इन राज्यों में नियमों और तत्परता को लेकर अभी भ्रम की स्थिति है. इन राज्यों में देश के बड़े एयरपोर्ट मुंबई, कोलकाता और चेन्नई ने केंद्र के घरेलू उड़ान (Domestic Flights) शुरू करने के प्लान को लाल झंडी दिखाई हुई है.
Less than 24 hours left to start domestic flight, Domestic Flights के शुरू होने में 24 घंटे से भी कम वक्त, केंद्र के फैसले पर कई राज्यों को एतराज

देश में कोरोनावायरस (Coronavirus) और लॉकडाउन (Lockdown) के चलते बंद की गईं घरेलू उड़ाने (Domestic Flights) शुरू करने की तैयारी हो चुकी हैं, लेकिन उड़ान शुरू होने के एक दिन पहले तक भी कई राज्यों और केंद्र सरकार के बीच तालमेल बैठता नजर नहीं आ रहा है.

दरअसल महाराष्ट्र, तमिलनाडु और पश्चिम बंगाल इन राज्यों में नियमों और तत्परता को लेकर अभी भ्रम की स्थिति है. इन तीनों ही राज्यों में देश के बड़े एयरपोर्ट मुंबई, कोलकाता और चेन्नई ने केंद्र के घरेलू उड़ान शुरू करने के प्लान को लाल झंडी दिखाई हुई है.

महाराष्ट्र ने बताया बहुत बुरी सलाह

महाराष्ट्र (Maharashtra) सरकार ने रविवार को घरेलू उड़ानों के संचालन को फिर से शुरू करने के लिए केंद्र के प्रस्ताव को लाल झंडी दिखाते हुए इसे बहुत बुरी सलाह करार दिया. गृह मंत्री अनिल देशमुख ने रविवार सुबह कहा कि “रेड जोन में हवाई अड्डों को फिर से खोलने की बहुत बुरी सलाह दी गई है.”

देशमुख ने कहा, “यात्रियों की बिना स्वैब लिए केवल तापमान की स्कैनिंग करना अपर्याप्त है. वर्तमान परिस्थितियों में ऑटो / टैक्सी / बसें लेना असंभव है.” उन्होंने आगे कहा कि ऐसे में पॉजिटिव यात्री रेड जोन में Covid-19 के तनाव को और बढाएंगे. वहीं इससे पहले महाराष्ट्र सरकार ने शनिवार को कहा कि राज्य ने अपने 19 मई के लॉकडाउन के दिशा-निर्देशों में बदलाव नहीं किया है, जिसमें केवल विशेष उड़ानों की ही अनुमति दी गई है.

देखिये फिक्र आपकी सोमवार से शुक्रवार टीवी 9 भारतवर्ष पर हर रात 9 बजे

तमिलनाडु ने भी जताई चिंता

वहीं तमिलनाडु (Tamil Nadu) भी अभी इसके पक्ष में नहीं है. मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक शुक्रवार को राज्य के एक अधिकारी ने कहा, “मुख्यमंत्री के पलानीस्वामी 31 मई तक सेवाएं बहाल नहीं करने के पक्ष में हैं. साथ ही राज्य सरकार इस मामले को केंद्र के सामने उठा सकती है.” अधिकारी की मानें तो राज्य सरकार की सबसे बड़ी चिंता राज्य में आने वाले लोगों की जांच करना और यह पता लगाना है कि कोई संक्रमित तो नहीं है.

अम्फान के कारण पश्चिम बंगाल नहीं है तैयार

पश्चिम बंगाल (West Bengal) सरकार ने भी कोलकाता में साइक्लोन अम्फान (Cyclone Amphan) से आई तबाही का हवाला देते हुए उड़ानों को कम से कम 30 मई तक बंद रखने का अनुरोध किया है. मुख्यमंत्री ममता बनर्जी (Mamata Banerjee) ने कहा कि जब तक सब कुछ ठीक नहीं हो जाता वे उत्तर बंगाल के सबसे छोटे बागडोगरा हवाई अड्डे के लिए उड़ानें भेजने के लिए केंद्र को पत्र लिखेंगी. बता दें कि अम्फान के कारण कोलकाता एयरपोर्ट पर भी काफी नुकसान हुआ है.

अगस्त से पहले अंतरराष्ट्रीय उड़ान शुरू करने की कोशिश

वहीं घरेलू उड़ान (Domestic Flight) शुरू करने के ऐलान के बाद सरकार ने साफ कर दिया कि जल्द ही देश से अब अंतरराष्ट्रीय उड़ान (International Flight) भी शुरू की जाएंगी. केंद्र सरकार की कोशिश है कि अगस्त से पहले कुछ अंतरराष्ट्रीय उड़ानें शुरू कर दी जाएं.

केंद्रीय नागरिक उड्डयन मंत्री हरदीप सिंह पुरी (Hardeep Singh Puri) ने शनिवार को इसकी जानकारी दी. उन्होंने कहा, “हम अगस्त से पहले कुछ अंतरराष्ट्रीय उड़ानें शुरू करने की कोशिश कर रहे हैं. हम आने वाले दिनों में अंतरराष्ट्रीय यात्री उड़ानों की संख्या में वृद्धि करेंगे.”

देखिये परवाह देश की सोमवार से शुक्रवार टीवी 9 भारतवर्ष पर हर रात 10 बजे

Related Posts