चिदंबरम को बड़ा झटका, 30 अगस्त तक और रहेंगे CBI की हिरासत में

कस्टडी में लेते ही सीबीआई ने पांच देशों को LRS यानि लैटर रोगेटरी भेजे थे ताकि इस पूरे स्कैम की मनी ट्रेल के बारे में पता लग सके.

नई दिल्ली: आईएनएक्स मीडिया केस में पूर्व वित्त मंत्री पी चिदंबरम पर शिकंजा कसता ही जा रहा है. सुप्रीम कोर्ट ने जहां चिदंबरम से कहा कि यदि उन्हें बेल चाहिए तो वो निचली अदालत जाएँ वहीं ED मामले में आज की सुनवाई पूरी हो गयी. कल मंगलवार 12 बजे ईडी के वकील चिदंबरम की आज की जिरह का जवाब देंगे.  पूर्व वित्त मंत्री पी चिदंबरम की 5 दिन की सीबीआई कस्टडी आज खत्म हो रही है. कस्टडी बढ़ाने को लेकर दिल्ली की राउज एवेन्यू कोर्ट में सुनवाई चल रही है. आइये जानते हैं UPDATES…

  • पी चिदंबरम को कोर्ट ने नहीं दी राहत, 30 अगस्त तक कस्टडी में रहेंगे चिदंबरम
  • 20 मिनट बाद फिर बैठेगी कोर्ट. इस मामले में कोर्ट आधे घंटे बाद सुनाएगी अपना फैसला.
  • कपिल सिब्बल- केवल सवाल पूछे जा रहा हैं कि पीटर मुखर्जी कहते हैं कि 5 मिलियन डॉलर आपको दिए गए है. ये मेथड सही नही है. कम से कम कोर्ट को बताए कि अभी तक जांच में क्या आया?तुषार मेहता- ये केस डायरी है. इसमें तारीख देकर लिखा हुआ है. कब क्या क्या हुआ है?कपिल सिब्बल- कोर्ट के नियमों का पालन नही हो रहा है.
  • कपिल सिब्बल- जिस पैसे की लेन देन की बात पिछली सुनवाई में सीबीआई ने कोर्ट से कही थी, उसके रेगार्डिंग एक भी सवाल नही किया गया. पैसे के रेगार्डिंग का कोई सबूत है तो कोर्ट को दिखाए. हमें न दिखाए. सीबीआई किसी और के स्टेटमेंट पर है. चिदंबरम मना कर चुके हैं. कल शाम तक साढ़े 26 घंटे पूछताछ की गयी. लेकिन उस पर एक भी सवाल नही पूछा गया. बैंक एकाउंट के बारे में नही पूछा. ईमेल पर पहले जवाब दिया जा चुका है.इस पर तुषार मेहता ने कहा कि ईडी बैंक एकाउंट पर है.सिब्बल ने कहा- सीबीआई के रिमांड पेपर में लिखा हुआ था पिछले सुनवाई के दौरान. ईमेल पर जवाब दे चुके हैं.तुषार मेहता- ईमेल पर थोड़ा हुआ था पहले।कपिल सिब्बल- थोड़ा ज्यादा क्या होता है?
  • सिब्बल ने ED की रिमांड का विरोध किया
  • SG तुषार मेहता ने कहा कि आप मेल को देखिए. इसके तह में जाना जरूरी है. कई दस्तावेज सामने आए हैं, इसीलिए इनको कंफ्रंट कराना जरूरी है. इस मामले में ED में कुछ सबूत मिले है जिसके तह में जाना जरूरी है. ऐसे में चिदंबरम को बाकी आरोपियों से कंफ्रंट कराना जरूरी है.
  • ED ने मामले में एक फाइल सुप्रीम कोर्ट में जमा की, उस पर भी हमें जांच करनी चाहिए- तुषार मेहता
    कपिल सिब्बल ने विरोध किया. ऐसे कैसी किसी फ़ाइल पर यहां चर्चा हो रही है ?
  • जज अजय कुमार कुहाड़ 4 दिन का इंट्रोगेशन मटेरियल पढ़ रहे हैं. तुषार मेहता ने कहा- इसी मेल से हम मामले के तह तक जाएंगे. ये काफी जरूरी है. जज साहब फाइल को देख रहे है.
  • इस मामले में ED की भी जांच चल रही है. हमें ED से कई सुराग मिले हैं. हमने आज सुप्रीम कोर्ट को सुराग दिए हैं. जज ने कहा कि आप पहले दिखाओ पिछले 4 दिनों में आपने क्या किया?
  • सीबीआई के वकील तुषार मेहता ने कहा- 5 दिनों की हिरासत में पूछताछ जरूरी है ताकि बड़े स्तर पर जो साजिश हुई है उसका पता लगा सके.
  • सीबीआई के वकील तुषार मेहता ने कहा- 5 दिन की रिमांड हमें चाहिए. हमने इनको डॉक्यूमेंट दिखाए. रिकॉर्डिंग भी हुई है. 26 यानी आज हमने एक आरोपी से आमना सामना कराया, लेकिन समय पूरा नही हुआ. इसके अलावा अभी एक दो और से आमना सामना कराना है. हम कोर्ट में नाम किसी का नही ले रहे हैं. हमें कई जवाब मिले हैं. हमे आगे भी 5 दिन का रिमांड चाहिए.
  • अगर माना भी जाए कि INX मीडिया से 10 लाख रुपया कार्ति चिदंबरम को आया भी था तो तब PMLA के लिए 30 लाख की लिमिट थी procecution के लिए.
  • राउज एवेन्यू की स्पेशल सीबीआई कोर्ट में चिदंबरम की पेशी के चलते कोर्ट में सुरक्षा व्यवस्था बढ़ा दी गई है. कोर्ट में दाखिल होने वाले हर व्यक्ति से पूछा जा रहा है कि वो कोर्ट किसलिए आए हैं. 3 बजे के बाद होगी चिदंबरम की पेशी.
  • एफआईआर दर्ज करने के बाद न तो अब तक चार्जशीट फाइल की गई ना ही क्राइम को लेकर कोई सबूत रखे गए- सिब्बल
  • सिब्बल ने कहा- अगर मेरे मुव्वकिल को भ्रष्टाचार करना होता तो वह नकदी का प्रयोग करता. इस तरह दस्तावेज तैयार कर अपने नाम पर कुछ नहीं करता.
  • लंच के बाद चिदंबरम मामले में फिर सुनवाई शुरू
  • सिब्बल ने कहा- सीबीआई ने 2017 में FIR दर्ज की जिसके आधार पर ED ने PMLA के section 3, 4 के अंतर्गत चिदंबरम की प्रॉपर्टी अटैच करना शुरू कर दिया. मानिए अगर सीबीआई का केस खारिज हो जाता है तो ED की इस कार्यवाही का क्या होगा? PMLA के अंतर्गत दर्ज किये गए केस में अगर सजा होती है तो 7 साल की सजा का प्रवधान है, इसके हिसाब से किसी गिरफ्तारी की जरूरत नहीं है.
  • सिब्बल ने कहा- सील कवर में अदालत को सौंपे गए दस्तावेज मेरे मुवक्किल को नहीं दिए गए. इसके चलते हाईकोर्ट ने उन्हें अग्रिम जमानत नहीं दी. INX मीडिया के मामले में FIPB की मंजूरी अनियमितता को लेकर है. FIPB की मंजूरी सरकार के 6 सेक्रेट्री ने दी थी. उस समय मंत्री चिदंबरम थे, जिन्होंने सिर्फ साइन किए थे.
  • विदेशों में जो संपत्ति है उसके दस्तावेज हैं. बैंक खातों के दस्तावेज हैं, कहां खामी है ईडी बताए- सिब्बल. मौजूदा समय में मीडिया ट्रायल एजेंसी द्वारा कराया जा रहा है.
  • हाईकोर्ट में ईडी ने हलफनामा नहीं बल्कि महज एक नोट दाखिल किया- सिब्बल
  • जब ED ने तीन बार चिदंबरम को बुलाया तो उनसे प्रॉपर्टी और फर्जी एकाउंट के बारे में कभी नहीं पूछा गया.
  • सिब्बल ने कहा यह किस तरह कि जांच चल रही है कि एजेंसी पूछ रही है कि आपके पास ट्विटर एकाउंट है. सिब्बल ने कहा- मुझे कड़ी आपत्ति है एजेंसी द्वारा अपनायी जा रही प्रक्रिया से. जो एक पक्ष को दस्तावेज से मरहूम रखकर सील कवर दस्तावेज अदालत को सौंपती है.
  • सिब्बल ने कहा यह किस तरह कि जांच चल रही है कि एजेंसी पूछ रही है कि आपके पास ट्विटर एकाउंट है.
  • सिब्बल ने कहा कि आपराधिक जांच सही, निष्पक्ष और बिना किसी विद्वेष के होनी चाहिए. उत्पीड़न और बदले की कार्रवाई नहीं होनी चाहिए. सिब्बल ने कहा- किसी भी दस्तावेज का प्रयोग अदालत में दूसरे पक्ष के खिलाफ नहीं किया जा सकता जब तक कि उन्हें पहले पक्ष को मुहैया नहीं करा दिया जाए.
  • कपिल सिब्बल ने आरोप लगाया कि ED ने जो affidavit फ़ाइल किया उसे पहले ही मीडिया में रिलीज कर दिया गया. ED के वकील से SG तुषार मेहता ने विरोध किया.
  • ईडी की ओर से एसजी ने सिब्बल के आरोपों पर ऐतराज़ जताया और कहा राजनीतिक भाषण ना.दें
  • सिब्बल ने ईडी की तरफ से दाखिल हलफनामे में लगाए गए आरोपों पर ऐतराज जता़या और कहा कि यह मामला राजनीति से प्रभावित है.
  • ED मामले पर सुनवाई जारी. ईडी को सीलकवर में रिपोर्ट फाइल करने की इजाजत सुप्रीम कोर्ट ने दी, एसजी तुषार मेहता करेंगे दाखिल
  • सिब्बल ने कहा- वह इस पर पुराने फैसलों के आधार पर दलीलें देंगे. सिब्बल ने कहा- जमानत याचिका CRPC की धारा 149 के तहत सीबीआई की रिमांड के दिन दाखिल कर चुके हैं. सुप्रीम कोर्ट निचली अदालत को इस पर गौर करने को कहे.
  • कोर्ट ने कहा- जमानत के लिए चिदंबरम निचली अदालत जाएं. हाईकोर्ट की टिप्पणियों से प्रभावित नहीं हो निचली अदालत- सुप्रीम कोर्ट
  • चिदंबरम को सुप्रीम कोर्ट से बड़ा झटका, SC ने अपील ख़ारिज की
  • चिदंबरम की गिरफ्तारी हो चुकी है. हाई कोर्ट के फैसले के खिलाफ याचिका निरर्थक- SC.
  • अभिषेक मनु सिंघवी और कपिल सिब्बल ने कहा कि चिदंबरम को अनुच्छेद 21 के तहत सुना जाना चाहिए था
  • कपिल सिब्बल ने कहा- 21 अगस्त को रजिस्ट्री से तत्काल सुनवाई कि मांग की गई, लेकिन मेंशनिंग करने के बावजूद तत्काल सुनवाई नहीं हुई. मुझे अग्रिम जमानत पर सुना जाना चाहिए था.
  • कपिल सिब्बल ने कहा कि 2007 से जुड़े आरोपों के मामले में सीबीआई कस्टडी गलत है. मुझे सुप्रीम कोर्ट द्वारा सुना नहीं गया. अग्रिम याचिका दायर करने के बावजूद नहीं सुना गया और अब कस्टडी से जुड़ी याचिका भी नहीं सूचीबद्ध की गयी.
  • चिदंबरम मामले में बेल की अर्जी पर सुप्रीम कोर्ट में सुनवाई शुरू
  • चिदंबरम को सीबीआई की स्पेशल कोर्ट में पेश किया जाएगा. दोपहर 2 बजे के बाद कोर्ट में होगी पेशी.
  • चिदंबरम के खिलाफ ED का सुप्रीम कोर्ट में हलफनामा
  • तीसरी याचिका में सीबीआई कस्टडी को दी गयी है चुनौती.
  • चिदंबरम को रिमांड पर भेजे जाने के ट्रायल कोर्ट के फैसले को चुनौती देने वाली याचिका आज सुनवाई के लिए लिस्ट नहीं होने पर कपिल सिब्बल ने इस मामले को जस्टिस भानुमति की बेंच के सामने मेंशन किया. जस्टिस भानुमति ने कहा कि CJI के आदेश से लिस्टिंग होगी.
  • चिदंबरम की तरफ से दाखिल तीसरी याचिका पर जस्टिस भानुमति ने कहा कि वीकेंड की वजह से यह याचिका रजिस्ट्री को भेजी जा रही है.