अधीर रंजन चौधरी के बयान पर सदन में हंगामा, केंद्रीय मंत्री बोले हम महात्मा गांधी के असली फॉलोवर

अनंत कुमार हेगड़े के महात्मा गांधी पर दिए गए बयान को लेकर लोकसभा में हुआ तो वहीं राज्यसभा में केंद्रीय वित्त राज्य मंत्री अनुराग ठाकुर के 'गोली मारो' बयान के खिलाफ नारेबाजी हुई.
Lok Sabha adjourned, अधीर रंजन चौधरी के बयान पर सदन में हंगामा, केंद्रीय मंत्री बोले हम महात्मा गांधी के असली फॉलोवर

मंगलवार को लोकसभा (Lok Sabha) में सदन की कार्यवाही दोपहर 12 बजे तक के लिए स्थगित कर दी गई. दरअसल, पूर्व केंद्रीय मंत्री और बीजेपी सांसद अनंत कुमार हेगड़े (Anant Kumar Hegde) ने सोमवार को महात्मा गांधी के खिलाफ विवादित बयान दिया था. उनके बयान को लेकर विपक्ष ने सदन में जमकर हंगामा किया. हंगामे की वजह से लोकसभा अध्यक्ष ओम बिड़ला ने सदन की कार्यवाही स्थगित कर दी.

जब सदन की कार्यवाही फिर से शुरू हुई तो लोकसभा में केंद्रीय मंत्री प्रल्हाद जोशी ने कहा कि हम भारतीय जनता पार्टी के लोग असली भक्त हैं. हम महात्मा गांधी के वास्तविक अनुयायी हैं. विपक्ष के लोगों पर निशाना साधते हुए उन्होंने आगे कहा कि ये लोग सोनिया गांधी और राहुल गांधी जैसे ‘नकली’ गांधी के अनुयायी हैं.

पढ़ें- अनंत कुमार हेगड़े ने क्या कहा था?

वहीं राज्यसभा (Rajya Sabha) में केंद्रीय वित्त राज्य मंत्री अनुराग ठाकुर (Anurag Thakur) के खिलाफ नारेबाजी हुई. दरअसल, उनके ‘गोली मारो’ बयान को लेकर सांसदों ने सदन में विरोध किया. बता दें कि दिल्ली के जामिया और शाहीन बाग इलाके में एक हफ्ते के अंदर दो बार फायरिंग की घटना सामने आईं थीं.

राज्यसभा में लगे नारे- ‘गोली चलाना बंद करो’

सदन की कार्यवाही शुरू होते ही जैसे ही अनुराग ठाकुर अपने मंत्रालय के पेपर्स सदन के पटल पर रखने ले लिए खड़े हुए तो विपक्ष के सांसदों ने विरोध किया और कहा कि ये गोली चलवाने वाले मंत्री है, इनके खिलाफ कार्रवाई हो.

टीएमसी के डेरेक ने चेयरमैन से कहा कि उनका नोटिस है तो चेयरमैन ने कहा कि राष्ट्रपति के अभिभाषण पर धन्यवाद पर चर्चा के दौरान पूरा मौका मिलेगा बोलने को. इस पर डेरेक गुस्सा हुए और तीन पर अपनी टेबल पर हाथ भी मारा. टीएमसी सांसद वेल में आकर नारेबाजी कर कहा कि ‘गोली चलाना बंद करो’.

पढ़ें- अनुराग ठाकुर ने क्या कहा था?

राज्यसभा में गूंजा निर्भया मामला

आप पार्टी के राज्यसभा सांसद संजय सिंह (Sanjay singh) ने कहा कि सजा का एलान होने के बावजूद सिर्फ तारीख पर तारीख मिल रही है. सदन से हस्तक्षेप की मांग करता हूं कि तत्काल फांसी हो. चुनावी दांव पेंच और इसपर बयानबाजी दुर्भाग्यपूर्ण है. इसपर राष्ट्रपति, सीजेआई, और सदन को तुरंत हस्तक्षेप करना चाहिए.

वेंकैया नायडू बोले- जल्द लागू किया जाना चाहिए आदेश

राज्यसभा (Rajya Sabha) के सभापति वेंकैया नायडू (Venkaiah Naidu) ने कहा कि ये बहुत ही गंभीर और संवेदनशील मामला है. देश मे आंदोलन हो रहा, चिंता है और दुर्भाग्यपूर्ण है. इस व्यवस्था में जो लोग भी संबंधित लोग है उन्हें अपना दायित्व निभाना जरूरी है. हम इसे ऐसे ही चलने नहीं दे सकते.

उनलोगों कों सभी लीगल मौके दिए गए. उन मौकों के खत्म होने के वावजूद ये बार-बार टलता जा रहा है. अब लोग बेसब्र हो रहे हैं. ये समझना जरूरी है कि कोर्ट के आदेश को जल्द से जल्द लागू किया जाना चाहिए.

वहीं केंद्रीय मंत्री प्रकाश जावड़ेकर (Prakash Javadekar) ने कहा कि डेढ़ साल की जो देरी हुई है वो दिल्ली सरकार की वजह से हुई है.

ये भी पढ़ें-

Delhi Elections 2020: केजरीवाल के हनुमान चालीसा पढ़ने पर कपिल मिश्रा ने किया तंज, कहा- अभी तो ओवैसी भी पढ़ेगा

उत्तर प्रदेश के पूर्व राज्यपाल अजीज कुरैशी के खिलाफ FIR दर्ज, CAA का कर रहे थे विरो

Related Posts