मोबाइल कनेक्शन के लिए अब जरूरी नहीं है AADHAR, लोकसभा में बिल पास

बिल पास होने के बाद किसी भी व्यक्ति को आधार के जरिए अपनी पहचान प्रमाणित करने के लिए बाध्य नहीं किया जा सकेगा.

आधार कार्ड, मोबाइल कनेक्शन के लिए अब जरूरी नहीं है AADHAR, लोकसभा में बिल पास

नई दिल्ली: आधार संशोधन बिल 2019 लोकसभा में पास हो गया है और इसी के साथ अब बैंकों और मोबाइल कंपनियों में केवाईसी फॉर्म में आधार वैकल्पिक हो गया है. केंद्रीय मंत्री रविशंकर प्रसाद ने आधार और अन्य विधियां विधेयक 2019 (संशोधन) बिल पेश किया. विधेयक में नागरिकों की प्राइवेसी को सुरक्षित रखने और उसके दुरुपयोग को रोकने को भी ध्यान में रखा गया है.

सूचना और प्रौद्योगिकी मंत्री रविशंकर प्रसाद ने विपक्ष के एक नेता को जवाब देते हुए लोगसभा में बताया कि यह विधेयक सुप्रीम कोर्ट के आदेश के मुताबिक ही पारित किया गया है. साथ ही रविशंकर प्रसाद ने कहा कि यह भी सुनिश्चित किया जाएगा कि आधार नहीं होने के चलते कोई भी योजनाओं से वंचित न रह जाए.

उन्होंने लोकसभा में कहा कि देश की कुल 130 करोड़ की आबादी में से 123 करोड़ों लोगों ने आधार को स्वीकार किया है. केंद्रीय मंत्री ने बताया कि आधार के कारण डायरेक्ट मनी ट्रांसफर के चलते देश को 90 हजार करोड़ का फायदा हुआ है. बिल पास होने के बाद किसी भी व्यक्ति को आधार के जरिए अपनी पहचान प्रमाणित करने के लिए बाध्य नहीं किया जा सकेगा.

ये भी पढ़ें: अधिकारी पर कीचड़ डालने के बाद नितेश राणे ने थाने पुलिसकर्मियों को धमकाया

Related Posts