‘मेरे स्टाफ को हाथ मत लगाना’ संसद में प्रदर्शन कर रहे सांसदों से बोले स्पीकर ओम बिड़ला

संसद में लोकसभा स्पीकर ओम बिड़ला ने कर्नाटक में जारी सियासी हालात पर चर्चा से मना कर दिया. इसके बाद भी कांग्रेस, तृणमूल और डीएमके सांसद प्रश्नकाल के दौरान वेल में प्रदर्शन कर रहे थे.
Lok Sabha Speaker Om Birla, ‘मेरे स्टाफ को हाथ मत लगाना’ संसद में प्रदर्शन कर रहे सांसदों से बोले स्पीकर ओम बिड़ला

नई दिल्ली: लोकसभा अध्यक्ष ओम बिड़ला शुक्रवार को संसद में प्रदर्शन कर रहे सांसदों पर नाराज हो गए. उन्होंने सांसदों को चेतावनी दी कि वे सदन के किसी भी कर्मचारी को हाथ ना लगाएं. शुक्रवार को सदन में प्रश्नकाल के दौरान कांग्रेस, तृणमूल और डीएमके सांसद प्रदर्शन करने लगे थे.

कर्नाटक में जारी सियासी हालात पर चर्चा से मना 

संसद में लोकसभ स्पीकर ओम बिड़ला ने कर्नाटक में जारी सियासी हालात पर चर्चा से मना कर दिया. इसके बाद भी कांग्रेस, तृणमूल और डीएमके सांसद प्रश्नकाल के दौरान वेल में प्रदर्शन कर रहे थे, इससे नाराज होकर स्पीकर ने कहा कि मेरे स्टाफ को हाथ मत लगाना.

लोकसभा अध्यक्ष ने प्रदर्शन कर रहे सांसदों से अपनी सीट पर जाने और प्रश्नकाल जारी रखने के लिए कहा. लेकिन इसके बाद भी विपक्षी सांसद विरोध कर रहे थे और ‘हमें न्याय चाहिए, तानाशाही नहीं चलेगी’ जैसे नारे लगा रहे थे.

सांसदों ने विरोध जारी रखा

स्पीकर ने कहा कि सभी सदस्यों ने तय किया था कि सदन में राज्य के मुद्दे नहीं उठाए जा सकते. यह राज्य से जुड़ा मामला है और संवैधानिक पद से जुड़ा है. इसलिए सभी सदस्य सीट पर बैठ जाएं. स्पीकर की नाराजगी के बाद भी सांसदों ने विरोध जारी रखा.

कुछ समय बाद फिर से स्पीकर ने प्रश्नकाल जारी रहने देने के लिए कहा. उन्होंने कहा कि मैं इस मुद्दे पर राय रखने के लिए दो बार समय दे चुका हूं. उन्होंने कहा कि इसके बाद भी मैं शून्यकाल में इस मुद्दे पर बात रखने के लिए समय दूंगा.

ये भी पढ़ें-

फिर धरने पर बैठीं प्रियंका गांधी, बोलीं- मैं सोनभद्र जाकर पीड़ितों से मुलाकात करूंगी

Related Posts