रानिप में वोट डालने से पहले पीएम मोदी ने लिया मां का आशीर्वाद, देखें VIDEO

मां हीराबेन ने बेटे नरेंद्र मोदी को आशीर्वाद स्वरूप एक नारियल, मिश्री और 500 रुपये भी दिए और फिर सिर पर हाथ रखकर आशीर्वाद भी दिया.

अहमदाबाद: पीएम मोदी गुजरात के अहमदाबाद सीट पर वोट डालने से पहले गांधीनगर अपनी मां के घर पहुंचे. यहां पर उन्होंने अपनी मां के पैर छूकर आशीर्वाद लिया. इससे पहले पीएम मोदी ने अपनी मां के साथ कुछ समय बिताया.

इस दौरान नरेंद्र मोदी की मां उन्हें गुजराती व्यंजन खिलाती हुई नज़र आ रही हैं. जिसके बाद पीएम मोदी ने भी अपनी मां को अपने हाथों से खिलाया. बाद में पीएम मोदी ने तौलिए से अपना मुंह साफ़ किया, जिसके बाद मां ने भी तौलिया उठाकर अपना मुंह साफ किया.

खिलाने के बाद मां हीराबेन ने बेटे नरेंद्र मोदी को आशीर्वाद स्वरूप एक नारियल, मिश्री और 500 रुपये भी दिए और फिर सिर पर हाथ रखकर आशीर्वाद भी दिया. इस दौरान मां-बेटे के बीच बातचीत भी चलती रही.

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी आज अहमदाबाद के रानीप में वोट डालेंगे. प्रधानमंत्री खुली जीप में सवार होकर पोलिंग बूथ तक वोट डालने पहुंचे जहां बीजेपी के अध्यक्ष अमित शाह ने उनका स्वागत किया. इसके अलावा अमित शाह, अरुण जेटली, मुख्यमंत्री विजय रुपाणी पूर्व सीएम केशुभाई पटेल, कांग्रेस नेता अहमद पटेल भी आज अपना वोट गुजरात में डालेंगे.

 बता दें कि देश में सात चरणों में हो रहे लोकसभा चुनाव के तीसरे चरण में मंगलवार को 15 राज्यों की 116 सीटों पर मतदान होगा. इस चरण के साथ गुजरात, केरल, गोवा, कर्नाटक, छत्तीसगढ़, असम, दादर नागर हवेली और दमन-दीव की सभी लोकसभा सीटों पर मतदान पूरा हो जाएगा.

तीसरे चरण में भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) और कांग्रेस, दोनों दलों के प्रमुख चुनाव मैदान में हैं. बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह पहली बार लोकसभा चुनाव में उतर हैं।. वह गांधीनगर से पार्टी के प्रत्याशी हैं, जबकि कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी इस चरण में केरल के वायनाड संसदीय क्षेत्र से उम्मीदवार हैं.

तीसरे चरण की 116 सीटों में से बीजेपी का लक्ष्य अपनी 62 सीटों को बचाने का होगा जहां पार्टी ने 2014 मे जीत हासिल की थी. इसलिए यह चरण भाजपा के लिए काफी अहम है.

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का गृह राज्य होने के कारण बीजेपी इस बार भी गुजरात की सभी सीटों पर जीत हासिल करने की उम्मीद लगाए बैठी है. लेकिन, कांग्रेस ने 2017 के विधानसभा चुनाव में प्रदेश में बीजेपी को कड़ी चुनौती थी, इसलिए कांग्रेस भी 10 से 15 सीटों पर इस बार जीत की उम्मीद कर रही है.

गुजरात के तीन युवा नेता हाíदक पटेल, अल्पेश ठाकोर और जिग्नेश मेवाणी ने विधानसभा चुनाव में प्रदेश में कांग्रेस की पकड़ मजबूत बनाने में मदद की थी, लेकिन इस बार वे चुनाव की दौड़ में शामिल नहीं हैं.

पाटीदार नेता पटेल पिछले महीने कांग्रेस में शामिल हुए, लेकिन दंगा से संबंधित मामले में अभियुक्त होने के कारण वे चुनाव नहीं लड़ पाए, जबकि ठाकोर ने इसी महीने कांग्रेस का दामन छोड़ दिया.