DS Hooda, DS Hooda, Lt Gen DS Hooda, Lt Gen DS Hooda says, Lt Gen DS Hooda interview, Strong Message, Strong Message to pakistan, pulwama, pulwama attack, national news, कैसे लिया जाए पुलवामा का बदला? सर्जिकल स्‍ट्राइक के मास्‍टरमाइंड ने बताया ‘एक्‍शन प्‍लान’
DS Hooda, DS Hooda, Lt Gen DS Hooda, Lt Gen DS Hooda says, Lt Gen DS Hooda interview, Strong Message, Strong Message to pakistan, pulwama, pulwama attack, national news, कैसे लिया जाए पुलवामा का बदला? सर्जिकल स्‍ट्राइक के मास्‍टरमाइंड ने बताया ‘एक्‍शन प्‍लान’

कैसे लिया जाए पुलवामा का बदला? सर्जिकल स्‍ट्राइक के मास्‍टरमाइंड ने बताया ‘एक्‍शन प्‍लान’

DS Hooda, DS Hooda, Lt Gen DS Hooda, Lt Gen DS Hooda says, Lt Gen DS Hooda interview, Strong Message, Strong Message to pakistan, pulwama, pulwama attack, national news, कैसे लिया जाए पुलवामा का बदला? सर्जिकल स्‍ट्राइक के मास्‍टरमाइंड ने बताया ‘एक्‍शन प्‍लान’

नई दिल्‍ली: जम्‍मू-कश्‍मीर के पुलवामा में हुए आत्‍मघाती हमले में 40 से ज्‍यादा की शहादत के बाद देश गुस्‍से से भरा है. शहीदों की अंतिम यात्रा में जनसैलाब उमड़ रहा है. पाकिस्‍तान को कभी न भूलने वाला सबक सिखाने की मांग जोर पकड़ रही है. बिहार में खुद पीएम नरेंद्र मोदी ने पुलवामा हमले के संबंध में कहा, ‘जो आग आपके दिल में है, वही आग मेरे दिल में भी है.’ इन सब बातों के बीच लेफ्टिनेंट जनरल डीएस हुड्डा का इंटरव्‍यू सामने आया है, जिसमें उन्‍होंने बताया कि पुलवामा हमले के बाद भारत का रेस्‍पॉन्‍स कैसा होना चाहिए? क्‍या एक और सर्जिकल स्‍ट्राइक की जरूरत है? कूटनीतिक स्‍तर पर पाकिस्‍तान से कैसे निपटा जाए और पाकिस्‍तान के साथ इस समय युद्ध हो या नहीं? डीएस हुड्डा की राय इसलिए भी बेहद है, क्‍योंकि उन्‍होंने उरी हमले में 19 जवानों की मौत के बाद हुई सर्जिकल स्‍ट्राइक में बड़ी भूमिका निभाई थी.

लेफ्टिनेंट जनरल डीएस हुड्डा ने कहा कि सबसे पहले भारत को पाकिस्तान पर अंतरराष्ट्रीय दबाव बनाना होगा. इसके लिए दूसरे देशों और संयुक्त राष्ट्र से पाकिस्तान पर दबाव डालने के लिए कहा जा सकता है. उत्तरी कमांड के चीफ पद से रिटायर्ड लेफ्टिनेंट जनरल डीएस हुड्डा ने कहा कि भारत ने अब तक पाकिस्तान पर जो भी अंतरराष्ट्रीय दबाव बनाया है उसमें कंसिस्टेंसी की कमी रही है. इसी कमी को जल्द से जल्द से जल्द दूर करना होगा.

लेफ्टिनेंट जनरल डीएस हुड्डा का कहना है कि पाकिस्तान के मसले पर चीन से भी बात करनी होगी. ताकि वह जैश-ए-मोहम्मद के सरगना मसूद अजहर को अतंरराष्ट्रीय आतंकी घोषित करने की पहल में बाधा डालना बंद करे. गौरतलब है कि भारत पिछले कई सालों से मसूद अजहर को अंतरराष्ट्रीय आतंकी घोषित करने की कोशिश कर रहा है. लेकिन चीन हमेशा अपने वीटो पॉवर का इस्तेमाल करके आतंकी को बचा लेता है.

लेफ्टिनेंट जनरल डीएस हुड्डा ने अपने ‘एक्शन प्लान’ में पाकिस्तानी आर्मी पर भी दबाव बनाने की बात भी की. पाकिस्तान से संचालित होने वाली समस्त आंतकी गतिविधियों में आर्मी का हाथ होता ही है. ऐसे में पाकिस्तान की आर्मी को दबाव में लाकर आतंकियों के खिलाफ एक्शन लिया जा सकता है.

लेफ्टिनेंट जनरल डीएस हुड्डा ने एक इंटरव्यू में कहा कि अभी हमें पाकिस्तान से सीधे युद्ध करने से बचना होगा. युद्ध के अलावा भी ऐसे कई उपाय हैं जिनसे पुलवामा का बदला लिया जा सकता है. भारत को पाकिस्तान को मुंहतोड़ जवाब देना चाहिए. हमें इसकी चिंता नहीं करनी चाहिए कि इससे पाकिस्तान से हमारे रिश्ते पर क्या असर पड़ेगा. इस चीज से भारतीय सेना निपट लेगी.

लेफ्टिनेंट जनरल डीएस हुड्डा कहते हैं कि पाकिस्तान इस बार इससे इनकार नहीं कर सकता है कि पुलवामा में सीआरपीएफ पर हुए हमले से उसका कोई लेना-देना नहीं है. क्योंकि पाकिस्तान स्थित आंतकी संगठन जैश-ए-मोहम्मद के सरगना मसूद अजहर ने खुद इसकी जिम्मेदारी ली है. डीएस हुड्डा कहते हैं कि पुलवामा हमले में भारत की सुरक्षा व्यवस्था में कुछ कमी जरूर रही. इसकी जांच करके उसे दूर करना होगा.

इसके साथ ही डीएस हुड्डा एक संभावित खतरे की ओर भी आगाह करते हैं. उन्होंने कहा कि पिछले तीन-चार सालों में कश्मीर के स्थानीय युवाओं के आतंकी संगठनों से जुड़ने की संख्या में इजाफा हुआ है. साथ ही सुरक्षा बलों पर हमले भी बढ़े हैं. पिछले दस सालों में हमने 2018 में सबसे ज्यादा सुरक्षाबल के जवान खोए. कश्मीर में कुछ आतंरिक समस्याएं जरूर हैं. और पाकिस्तान इसका फायदा भी उठा रहा है.

लेफ्टिनेंट जनरल डीएस हुड्डा ने कहा कि कश्मीर समस्या में पाकिस्तान का पूरा हाथ है. पिछले तीन-चार सालों में कश्मीर में जो भी बड़ी घटनाएं हुई हैं, उनमें पाक स्थित आतंकी संगठनों का हाथ रहा है. जानकारों का मानना है कि पुलवामा हमले में इस्तेमाल हुआ IED सीमापार से ही आया था. आतंकियों की फंडिंग भी सीमापार से ही होती रही है.

लेफ्टिनेंट जनरल डीएस हुड्डा यह मानते हैं कि कश्मीर समस्या के पीछे कुछ धार्मिक वजहें भी हैं. इससे स्थानीय आतंकियों के खुदकुश हमलावर बनने का खतरा भी बड़ा है. कश्मीर ऐसा इससे पहले नहीं देखा गया था. डीएस हुड्डा इस बात से इनकार करते हैं कि कश्मीर घाटी में ISIS बहुत पहुंच है. उनके मुताबिक, जैश-ए-मोहम्मद, तस्कर-ए-तैयबा, हिज्बुल मुजाहिदीन का प्रभाव ही ज्यादा है जिनसे निपटना होगा.

DS Hooda, DS Hooda, Lt Gen DS Hooda, Lt Gen DS Hooda says, Lt Gen DS Hooda interview, Strong Message, Strong Message to pakistan, pulwama, pulwama attack, national news, कैसे लिया जाए पुलवामा का बदला? सर्जिकल स्‍ट्राइक के मास्‍टरमाइंड ने बताया ‘एक्‍शन प्‍लान’
DS Hooda, DS Hooda, Lt Gen DS Hooda, Lt Gen DS Hooda says, Lt Gen DS Hooda interview, Strong Message, Strong Message to pakistan, pulwama, pulwama attack, national news, कैसे लिया जाए पुलवामा का बदला? सर्जिकल स्‍ट्राइक के मास्‍टरमाइंड ने बताया ‘एक्‍शन प्‍लान’

Related Posts

DS Hooda, DS Hooda, Lt Gen DS Hooda, Lt Gen DS Hooda says, Lt Gen DS Hooda interview, Strong Message, Strong Message to pakistan, pulwama, pulwama attack, national news, कैसे लिया जाए पुलवामा का बदला? सर्जिकल स्‍ट्राइक के मास्‍टरमाइंड ने बताया ‘एक्‍शन प्‍लान’
DS Hooda, DS Hooda, Lt Gen DS Hooda, Lt Gen DS Hooda says, Lt Gen DS Hooda interview, Strong Message, Strong Message to pakistan, pulwama, pulwama attack, national news, कैसे लिया जाए पुलवामा का बदला? सर्जिकल स्‍ट्राइक के मास्‍टरमाइंड ने बताया ‘एक्‍शन प्‍लान’