महागठबंधन में महासंकट, कई सीटों पर सस्पेंश अब भी बरकरार

महागठबंधन की पार्टियों के बीच सीटों के बंटवारे को लेकर आज एक बैठक होनी थी.

नई दिल्ली: महागठबंधन में सब कुछ ठीक-ठाक नहीं है. बिहार में कई परंपरागत सीटों की कुर्बानी देने के बाद मिली मात्र 9 सीटों को लेकर कांग्रेस आलाकमान पहले से बिफरा हुआ है. अब मिथिलांचल में कांग्रेस के लिये महत्वपूर्ण दो सीटों, दरभंगा और मधुबनी किसी भी कीमत पर छोड़ने को तैयार नही है. निखिल कुमार की औरंगाबाद सीट खोने के बाद कांग्रेस कीर्ति आजाद की दरभंगा सीट नहीं गंवाना चाहती है, जिसे आरजेडी ने अपने नेता अब्दुल बारी सिद्दीकी को देने का मन बना लिया है.

महागठबंधन के सारे नेता मिलकर आज अपनी शेष बची सीटों के शेयरिंग का ऐलान करने वाले थे, आज शाम छह बजे के समय के साथ स्थान भी मुकर्रर कर दिया गया था. पत्रकार वार्ता के लिये बुलावा भी भेज दिया गया लेकिन महागठबंधन का ये महापेंच नही सुलझ पाया लिहाजा महागठबंधन का ये पूर्व निर्धारित ऐलान का कार्यक्रम रद्द कर दिया गया. अब नई तारीख और नया समय कल सुबह 10 बजे का निर्धारित किया गया है.

इधर बिहार कांग्रेस के सभी बड़े नेताओं को दिल्ली तलब कर दिया गया है. कांग्रेस आलाकमान ऐसा कोई अप्रत्याशित फैसला कर ले तो कोई आश्चर्य नहीं होगा, जो हालात पैदा हो रहे हैं वैसे में अगर गठबंधन की गांठे खुल जाए तो भी कोई आश्चर्य की बात नहीं होगी.