दिग्विजय की जीत के लिए अनुष्ठान करनेवाले महामंडलेश्वर को निरंजनी अखाड़े ने किया बाहर

दिग्विजय सिंह के लिए यज्ञ-अनुष्ठान करनेवाले महामंडलेश्वर स्वामी वैराग्यानंद की मुसीबतें कम नहीं हो रही. एक तो उनसे समाधि को लेकर सवाल पूछा जा रहा है और अब निरंजनी अखाड़े ने उन्हें निष्कासित भी कर दिया है.

भोपाल से कांग्रेस के उम्मीदवार दिग्विजय सिंह के लिए यज्ञ-अनुष्ठान करनेवाले महामंडलेश्वर स्वामी वैराग्यानंद की मुसीबतें कम नहीं हो रही हैं. पहले तो दिग्विजय अपना चुनाव हार गए जिस पर वैराग्यानंद की किरकिरी हुई. फिर लोगों ने फोन करके उनसे पूछना शुरू कर दिया कि समाधि लेने के उस दावे का क्या हुआ जो उन्होंने दिग्विजय के हारने पर किया था.

उन पर चर्चाओं ने ज़्यादा ज़ोर पकड़ा तो निरंजनी अखाड़े को भी इस तरफ ध्यान देना पड़ा और अब खबर है कि अखाड़े ने उन्हें निकाल बाहर किया है.

वैराग्यानंद ने हाल ही में ही दिग्विजय सिंह की जीत के लिए लाल मिर्च से यज्ञ करने का दावा किया था. 23 मई को आए नतीजे में दिग्विजय भाजपा की प्रज्ञा सिंह ठाकुर से 3 लाख 64 हजार वोटों से हार गए. वैराग्यानंद ने टीवी 9 भारतवर्ष से कहा था- दिग्विजय के लिए पांच क्विंटल लाल मिर्च से दिग्विजय यज्ञ किया जाएगा. उनकी जीत पर मुझे कोई संशय नहीं है. अगर वे नहीं जीते तो उसी जगह उसी कुंड में जिंदा समाधि ले लूंगा.

ये भी पढ़िए-  टीवी9 भारतवर्ष पर कसम खा फंस गए बाबा, फोन कर पूछ रहे लोग- कब लेंगे समाधि?

सिर्फ वैराग्यानंद ने ही नहीं बल्कि भोपाल के न्यू सैफिया कॉलेज में 7 मई को नामदेव शास्त्री उर्फ कम्प्यूटर बाबा ने भी प्रदेशभर से आए साधु-संतों के साथ अनुष्ठान किया था. इस कार्यक्रम को धार्मिक कार्यक्रम बताकर संत समागम की अनुमति ली गई थी, लेकिन दिग्विजय के पहुंचने के बाद यह कार्यक्रम राजनीतिक हो गया था जिस पर जिला निर्वाचन अधिकारी ने कम्प्यूटर बाबा को नोटिस जारी किया था. उस कार्यक्रम के पूरे खर्चे को दिग्विजय सिंह के खाते में जोड़ने का फैसला भी किया गया था.