54 विधायकों में से 53 शरद पवार खेमे में वापस, अजित पवार को मनाने की कोशिश जारी

वहीं एक अन्य एनसीपी विधायक दौलत दरोदा ने भी शरद पवार के खेमें में वापसी की बात कही है. ये वही विधायक हैं जिनके लापता होने की बात कही जा रही थी. 
Maharashtra Gov Formation, 54 विधायकों में से 53 शरद पवार खेमे में वापस, अजित पवार को मनाने की कोशिश जारी

महाराष्ट्र में सरकार बनने के बाद भी राजनीतिक उठा-पटक जारी है. इस बीच राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (एनसीपी) ने दावा किया है कि उसे 54 विधायकों में से 53 विधायकों का समर्थन प्राप्त है.

सबसे पहले गायब NCP MLA अनिल भाईदास पाटिल ने शरद पवार के प्रति आस्था जताते हुए ट्वीट कर वापसी की घोषणा की.

वहीं अहमदनगर से एनसीपी विधायक बालासाहेब पाटिल ने भी वीडियो जारी कर शरद पवार खेमें में वापसी की घोषणा की. उन्होंने कहा कि मुझे झूठ बोलकर राजभवन ले जाया गया था. मैं शरद पवार के साथ हूं.

वहीं एक अन्य एनसीपी विधायक दौलत दरोदा ने भी शरद पवार के खेमें में वापसी की बात कही है. ये वही विधायक हैं जिनके लापता होने की बात कही जा रही थी.

दौलत दरोदा के अलावा अब एनसीपी विधायक नितिन पवार भी सामने आ गये हैं. वो भी शनिवार सुबह से गुमशुदा बताए जा रहे थे. उन्होंने एक वीडियो जारी कर कहा कि मेरे परिवार और क्षेत्र के लोग आप लोग मेरी चिंता न करें. मैं शरद पवार, अजित पवार और भुजबल साहब के साथ हूं.

इनके अलावा एनसीपी विधायक माणिकराव कोकाटे जो शनिवार को शपथ ग्रहण के दौरान अजित पवार के साथ राजभवन में मौजूद थे वो भी Renaissance होटल पहुंचे हैं. बता दें कि शरद पवार इसी होटल में मौजूद हैं और यहीं पर अन्य सभी एनसीपी नेता मौजूद थे

एनसीपी प्रमुख शरद पवार ने 50 विधायकों के साथ होने का दावा किया था. हालांकि शनिवार रात तक इनके पास कुल 49 विधायक मौजूद थे. रविवार दोपहर तक एनसीपी के पांच बागी विधायक वापस शरद खेमे में आ गए हैं.

ऐसे में एनसीपी के 54 विधायकों में से 53 विधायक अब शरद पवार खेमे में दिख रहे हैं. यानी अब सिर्फ अजित पवार का वापस आना ही बाकी है.

अजित पवार को लगातार वापस लाने की कोशिश जारी है. नवाब मलिक ने उनकी वापसी का रास्ता साफ करते हुए कहा कि अगर कोई सुबह का भूला शाम को वापस लौट जाए तो उसे भूला नहीं कहते.

एनसीपी के वरिष्ठ नेता मलिक ने कहा, ‘अजित पवार ने बहुत बड़ी ग़लती की है. शनिवार शाम से उन्हें मनाने की कोशिश की जा रही है. हालांकि अभी तक उनकी तरफ से वापसी के कोई संकेत नहीं मिले हैं. अच्छा होगा अगर उन्हें अपनी ग़लती का एहसास हो.’

उधर महाराष्ट्र के उपमुख्यमंत्री के रूप में शनिवार को शपथ लेने वाले राकांपा नेता अजित पवार रविवार तड़के यहां चर्चगेट के पास अपने निजी आवास पर लौट आए और बाद में उन्होंने अपने समर्थकों और पार्टी के कुछ नेताओं से मुलाकात की.

बताया जा रहा है कि वापसी की कोशिश में रविवार सुबह सुनील तटकरे, नवाब मलिक, कांग्रेस नेता अशोक चव्हाण और बाला साहेब थोराट, अजित पवार के घर पहुंचे हैं. इस दौरान उन्हें एनसीपी में वापस बुलाने की कोशिश चल रही है.

महाराष्ट्र के उपमुख्यमंत्री के रूप में शनिवार को शपथ लेने वाले राकांपा नेता अजित पवार रविवार तड़के यहां चर्चगेट के पास अपने निजी आवास पर लौट आए और बाद में उन्होंने अपने समर्थकों और पार्टी के कुछ नेताओं से मुलाकात की।

Related Posts