‘महाराष्ट्र में सीएम बनना ठीक वैसे ही जैसे दूल्हे की हो गई शादी बिना बैंड-बाजा और बारात’

'राज्यपाल ने हमें कभी भी सरकार बनाने का आमंत्रण नहीं दिया. हमारे तरफ से कोई विलंब नहीं हुआ, प्रकिया में जितना टाइम लगना था, उतना ही लगा. उद्धव ठाकरे से कुछ मुद्दों पर बातचीत जरूरी थी.'
Congress leader Ahmed Patel, ‘महाराष्ट्र में सीएम बनना ठीक वैसे ही जैसे दूल्हे की हो गई शादी बिना बैंड-बाजा और बारात’

महाराष्ट्र में देवेंद्र फडणवीस का मुख्यमंत्री बनना ठीक वैसा ही है जैसे किसी की शादी बिना किसी बैंड, बिना बाजा और बारात के हीं संपन्न करा दिया गया हो. आज की घटना में लोकतंत्र की धज्जियां उड़ाई गईं हैं.  ये दिन काली स्याही से लिखा जाएगा. शिवसेना-एनसीपी से अलग प्रेस कॉन्फ्रेंस करते हुए कांग्रेस के वरिष्ठ नेता अहमद पटेल ने यह बात कही.

पार्टी के वरिष्ठ नेता अहमद पटेल ने कहा, ‘ना बैंड, ना बाजा, ना बारात और सीएम और डिप्टी सीएम ने शपथ ले ली. ये घटना काली स्याही से लिखी जाएगी. बिना किसी जांच के शपथ दिलाई गई है. कहीं ना कहीं कुछ गड़बड़ है.’

उन्होंने आगे कहा, ‘बेशर्मी की सारी सीमाएं पार दी गई हैं. एनसीपी के कुछ लोगों ने लिस्ट दी, जिस वजह से ये घटना घटी. बीजेपी को हराने के लिए तीनों दल साथ आए थे. हम तीन आज भी एकजुट हैं. कांग्रेस के सभी विधायक एक साथ हैं.’

फैसला लेने में देरी वाले मुद्दे को लेकर उन्होंने कहा, ‘राज्यपाल ने हमें कभी भी सरकार बनाने का आमंत्रण नहीं दिया. हमारे तरफ से कोई विलंब नहीं हुआ, प्रकिया में जितना टाइम लगना था, उतना ही लगा. उद्धव ठाकरे से कुछ मुद्दों पर बातचीत जरूरी थी.’

उन्होंने आगे कहा, ‘हमारे सभी विधायक हमारे साथ हैं, तीनों पार्टियां साथ मिलकर उन्हें बहुमत में हराएंगी. राजनीतिक और कानूनी फ्रंट पर दोनों ओर से हमारी लड़ाई जारी रहेगी. सरकार बनाने को लेकर बातचीत आज फाइनल स्टेज पर थी, लेकिन यह कांड हो गया.’

Related Posts