शपथ ग्रहण के तुरंत बाद हुई उद्धव सरकार की पहली कैबिनेट बैठक, लिया गया यह बड़ा फैसला

उद्धव ठाकरे ने कहा कि हम राज्य में ऐसा माहौल सुनिश्चित करना चाहते हैं जहां कोई भी आतंकित महसूस नहीं करेगा.
Uddhav Thackeray first cabinet meeting, शपथ ग्रहण के तुरंत बाद हुई उद्धव सरकार की पहली कैबिनेट बैठक, लिया गया यह बड़ा फैसला

उद्धव ठाकरे ने महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री के तौर पर गुरुवार को शपथ ग्रहण की. उद्धव ने शिवाजी महाराज को नमन करते हुए मराठी भाषा में शपथ ली. वह ठाकरे परिवार से पहले मुख्यमंत्री हैं. महाराष्ट्र के राज्यपाल भगत सिंह कोश्यारी ने शाम 6.40 बजे उन्हें पद और गोपनीयता की शपथ दिलाई.

शपथ ग्रहण के बाद शाम 8 बजे उद्धव सरकार की पहली कैबिनेट मीटिंग शुरू हो गई है. कैबिनेट मीटिंग से बाहर आने के बाद मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने पत्रकारों को संबोधित किया. उन्होंने कहा कि मैं राज्य के लोगों को आश्वस्त करना चाहता हूं कि हम एक अच्छी सरकार देंगे. मैं किसानों की मदद करना चाहता हूं, जिससे उन्हें खुशी मिले.


उद्धव ठाकरे ने कहा कि ‘बैठक में किसानों की समस्यों को लेकर चर्चा की गई. हालांकि उनके लिए कोई भी फैसला स्थिति रिपोर्ट देखने के बाद लिया जाएगा. मुख्य सचिव किसानों की स्थिति पर 1-2 दिन में जानकारी देंगे और इसके बाद उनके लिए बड़ा ऐलान होगा.’

सीएम उद्धव ठाकरे की पहली कैबिनेट बैठक में छत्रपति शिवाजी महाराज के किले को लेकर बड़ा फैसला किया गया है. उद्धव ने कहा कि छत्रपति शिवाजी महाराज की राजधानी रायगढ़ किला के संरक्षण के लिए 20 करोड़ रुपये आवंटित किए गए हैं.

ठाकरे ने कहा कि अगर हम वास्तविकता जानेंगे तो हम अच्छा काम कर सकते हैं. हमने जानकारी मांगी है. किसानों को सिवाए आश्वासन के आज तक कुछ नहीं मिला है. हम किसानों की ठोस मदद करना चाहते हैं.

Uddhav Thackeray first cabinet meeting, शपथ ग्रहण के तुरंत बाद हुई उद्धव सरकार की पहली कैबिनेट बैठक, लिया गया यह बड़ा फैसला

उन्होंने कहा कि हम राज्य में ऐसा माहौल सुनिश्चित करना चाहते हैं जहां कोई भी आतंकित महसूस नहीं करेगा. उद्धव ठाकरे जब मीडिया से बात कर रहे थे उस समय उनके साथ मंत्रिमंडल के सहयोगी छगन भुजबल, जयंत पाटिल, बालासाहेब थोराट और नितिन राउत भी थे.

इससे पहले बैठक में किसानों के हित में फैसले लिए जाने की उम्मीद की जा रही थी. NCP नेता जयंत पाटिल ने कैबिनेट बैठक को लेकर जानकारी दी थी.

वहीं ये भी माना जा रहा था कि तीनों पार्टियों (कांग्रेस, शिवसेना और NCP) के कॉमन मिनिमम प्रोग्राम (CMP) में किए वादों पर भी कैबिनेट से बड़ा फैसला सामने आ सकता है. CMP में इन बातों को शामिल किया गया है…

  • महाराष्ट्र के मंत्रियों के लिए 1 समन्वय
  • सूखा पीड़ित किसानों के लिए तुरंत कर्ज माफी
  • हर नागरिक के लिए हेल्थ इंश्योरेंस कवर
  • महाराष्ट्र के स्थानीय लोगों को 80% आरक्षण
  • ‘एक रुपये क्लीनिक’ की शुरुआत होगी
  • कॉमन मिनिमम प्रोग्राम में सेक्युलरिज्म पर जोर
  • तीनों दलों के बीच 2 समन्वय समिति
  • तीनों दलों के बीच ‘धर्मनिरपेक्षता’ पर सहमति
  • सभी धर्मों के लोगों को साथ लेकर चलेंगे- एकनाथ
  • महाराष्ट्र में किसी के साथ अन्याय नहीं होगा- एकनाथ
  • महाराष्ट्र के युवाओं को रोजगार का वादा
  • हमारी सरकार जनता के हित में काम करेगी- एकनाथ
  • फसल खराब होने पर किसानों को मुआवजा
  • बारिश-बाढ़ प्रभावित किसानों को तुरंत राहत दी जाएगी
  • सरकारी विभागों में खाली पद भरे जाएंगे
  • आर्थिक रूप से कमजोर वर्ग की लड़कियों को मुफ्त शिक्षा
  • खेतिहर मजदूरों के बच्चे और आर्थिक रूप से कमजोर वर्ग के छात्रों को शून्य प्रतिशत ब्याज दर पर शिक्षा लोन
  • शहरों और जिला मुख्यालयों पर कामकाजी महिलाओं के लिए छात्रावास

ये भी पढ़ें-

महाराष्ट्र का मुख्यमंत्री बनने पर गोडसे भक्त उद्धव ठाकरे को बधाई: बीजेपी सांसद जीवीएल नरसिम्हा राव

CMP में विदर्भ-उत्तर महाराष्ट्र-मराठवाड़ा का जिक्र तक नहीं, उद्धव के शपथ लेते ही फडणवीस ने साधा निशाना

जनता के सामने नतमस्तक हुए CM उद्धव ठाकरे, इन तस्वीरों में देखिए शपथ ग्रहण के खास लम्हे

Related Posts