मेजर विभूति के ताबूत को चूम कर भावुक पत्नी बोली – I LOVE YOU

, मेजर विभूति के ताबूत को चूम कर भावुक पत्नी बोली – I LOVE YOU

पुलवामा आतंकी हमलों के मास्टरमाइंड के साथ एनकाउंटर में शहीद मेजर विभूति शंकर ढौंडियाल का पार्थिव शरीर देहरादून में जब अंतिम यात्रा के लिए निकला तो उनकी पत्नी निकिता कौल ने आंसुओं के सैलाब के बीच ताबूत चूम कर कहा – आई लव यू. विभूति की शादी पिछले साल ही अप्रैल में हुई थी. निकिता खुद एक कश्मीरी विस्थापित हैं.

गमगीन माहौल में नम आँखों के साथ उत्तराखंड की राजधानी देहरादून लगातार दूसरे दिन देश के वीर सपूत को विदा कह रहा है. सोमवार को ही कश्मीर में आईईडी डिफ्यूज करने के दौरान शहीद हुए मेजर चित्रेश को अंतिम विदाई दी गई थी.

34 साल के मेजर विभूति 11 साल पहले 2008 में सेना में शामिल हुए थे. उनके परिवार में दादी, मां, तीन बहनें और पत्नी हैं. जब निकिता अपने पति के ताबूत के पास पहुंची तब पूरा माहौल भारत माता की जय के नारों से गूंज उठा. देश के लिए जान की कुर्बानी देने वाले अपने वीर सपूत को अंतिम विदाई देने लोगों ने पाकिस्तान के खिलाफ नारे भी लगाए.

14 फरवरी को पुलवामा में सीआरपीएफ के काफिले में हमला करने वाले आतंकी कामरान के ठिकाने की जानकारी मिलने के बाद विभूति की अगुआई में सुरक्षाबलों ने उसे सबक सिखाने की ठानी. भनक लगते ही एक घर में छिपे आतंकियों ने अंथाधुंध फायरिंग शुरू कर दी. उनसे लोहा लेते हुए मेजह विभूति शहीद हो गए. इस कार्रवाई में सेना के तीन और जवान शहीद हुए.

लेकिन घर में छिपे तीनों आतंकी बच कर नहीं निकल सके और मेजर विभूति के साथियों ने उन्हें ढेर कर दिया.

Related Posts