CAA पर ममता बनर्जी का हमला, जावड़ेकर का पलटवार, मायावती ने भी कबूली बीजेपी की चुनौती

नागरिकता कानून के खिलाफ देशभर में विरोध प्रदर्शन हो रहे हैं. इन प्रदर्शनों को विपक्षी दलों द्वारा भी समर्थन मिल रहा है. वहीं केंद्र सरकार और सत्तारूढ़ बीजेपी भी अब इन प्रदर्शनों के खिलाफ और नागरिकता कानून के समर्थन में रैली निकाल रही है.
CAA Protest, CAA पर ममता बनर्जी का हमला, जावड़ेकर का पलटवार, मायावती ने भी कबूली बीजेपी की चुनौती

पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने बुधवार को दार्जिलिंग में नागरिकता संशोधन अधिनियम (CAA) और प्रस्तावित एनआरसी के खिलाफ रैली निकाली. रैली में सैकड़ों लोगों ने भाग लिया. इस दौरान ममता बनर्जी ने चेतावनी भरे शब्दों में कहा कि अमित शाह को साफ करना होगा कि क्या पहले किसी नागरिक को विदेशी घोषित किया जाएगा और फिर सीएए के तहत नागरिकता के लिए आवेदन देने के लिए उसे कहा जाएगा.

तृणमूल कांग्रेस पार्टी की प्रमुख ममता बनर्जी की इस रैली पर हमला बोलते हुए केंद्रीय मंत्री और बीजेपी नेता प्रकाश जावड़ेकर ने पलटवार किया. जावडे़कर ने कहा, ‘अगर कांग्रेस पार्टी एनपीआर लाती है तो वह अच्छा और हम करते हैं तो वह बुरा माना जाता है. ऐसा कैसे हो सकता है.’ इसी बीच बहुजन समाज पार्टी प्रमुख मायावती ने भी नागरिकता कानून को लेकर केंद्र पर हमला बोला.

मालूम हो कि लखनऊ रैली में बीजेपी द्वारा नागरिकता कानून पर विपक्षी दलों को बहस की चुनौती दी थी. इस पर बीएसपी सुप्रीमो मायावती ने ट्वीट कर कहा, ‘अति-विवादित CAA/NRC/NPR के खिलाफ पूरे देश में खासकर युवा और महिलाओं के संगठित होकर संघर्ष और आंदोलित हो जाने से परेशान केंद्र सरकार द्वारा लखनऊ की रैली में विपक्ष को इस मुद्दे पर बहस करने की चुनौती को बीएसपी किसी भी मंच पर और कहीं भी स्वीकार करने को तैयार है.’

बताते चलें की नागरिकता कानून के खिलाफ देशभर में विरोध प्रदर्शन हो रहे हैं. इन प्रदर्शनों को विपक्षी दलों द्वारा भी समर्थन मिल रहा है. वहीं केंद्र सरकार और सत्तारूढ़ बीजेपी भी अब इन प्रदर्शनों के खिलाफ और नागरिकता कानून के समर्थन में रैली निकाल रही है.

ये भी पढ़ें: आजम खान को कोर्ट से लगा झटका, यूनिवर्सिटी की 100 बीघा जमीन जब्त करने का दिया आदेश

Related Posts