मां नाश्‍ता नहीं कर पाई थी, बेटे ने चेन खींचकर रोक दी शताब्‍दी एक्‍सप्रेस

ट्रेन में मौजूद RPF कर्मचारियों ने शख्‍स को पकड़ा और मथुरा RPF के हवाले कर दिया.

आगरा: ट्रेन को चेन खींचकर रोकने के मामले अक्‍सर सामने आते रहे हैं. कभी किसी को मनमुताबिक जगह उतरना होता है तो किसी को सिर्फ परेशान करने के लिए. इस बीच यूपी के मथुरा से एक अजीबोगरीब मामला सामने आया है. यहां एक शख्‍स ने इसलिए ट्रेन रोक दी क्‍योंकि उसकी मां अपना नाश्‍ता नहीं खा पाई थी.

दिल्‍ली के यमुना विहार में रहने वाले 32 वर्षीय मनीष अरोड़ा अपनी मां और एक रिश्‍तेदार संग नई दिल्‍ली-हबीबगंज शताब्‍दी एक्‍सप्रेस के C8 कोच में सफर कर रहे थे. तीनों की मथुरा जंक्‍शन तक सीट नंबर 52, 53 और 56 पर बुकिंग थी.

अरोड़ा के खिलाफ मथुरा रेलवे प्रोटेक्‍शन फोर्स (RPF) ने केस दर्ज किया है. RPF मथुरा के अनुसार, अरोड़ा के खिलाफ रेलवे एक्‍ट की धारा 141 (बेवजह ट्रेन में संचार माध्‍यमों से छेड़छाड़ करना) लगाई गई है. बाद में अरोड़ा को ‘जमानत’ देकर मजिस्‍ट्रेट के सामने पेश होने की तारीख दे दी गई.

RPF मथुरा के प्रभारी, सीबी प्रसाद ने टाइम्‍स ऑफ इंडिया से कहा, “पूछताछ के दौरान, मनीष अरोड़ा ने दावा किया कि जब मथुरा आया तो उनकी मां नाश्‍ता कर रही थीं. उनका नाश्‍ता खत्‍म नहीं हो पाया था कि ट्रेन चल पड़ी. चूंकि मै चलती ट्रेन से मां और रिश्‍तेदार को लेकर प्‍लैटफॉर्म पर कूद नहीं सकता था, इसलिए मैंने ट्रेन खींच दी.”

ट्रेन में मौजूद RPF कर्मचारियों ने अरोड़ा को पकड़ा और मथुरा RPF के हवाले कर दिया. RPF की आगरा डिवीजन के अनुसार, अलग-अलग वजहों से ट्रेन खींचने के चलते यात्रियों से करीब 6 लाख रुपये वसूले गए हैं.

ये भी पढ़ें

रेलवे के बेस किचन से पैक होने वाले खाने में लगेगा QR कोड, मिलेंगी ये जरूरी जानकारियां

अब घर बैठे पता चलेगा बस या ट्रेन में सीट मिलेगी या नहीं, जानिए गूगल मैप का नया फीचर

सेक्‍स चेंज ऑपरेशन के बाद लड़का बन गया लड़की, रेलवे के सामने रखी ये डिमांड